किसान आंदोलन: राहुल गांधी ने की कृषि विरोधी तीनों कानून को रद्द करने की मांग

नई दिल्ली: कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने किसान को देश की शक्ति बताते हुए कृषि विरोधी तीनों कानून को रद्द करने की मांग की है। और कहा कि सरकार को दिल्ली में डेरा डाले किसानों की मांग पर विचार करते हुए इन कानूनों को रद्द करना चाहिए।

राहुल गांधी ने एक वीडियो सन्देश जारी कर कहा कि देश का किसान काले कृषि क़ानूनों के खिलाफ ठंड में अपना घर-खेत छोड़कर दिल्ली तक आ पहुंचा है। जिससे देशवासियों को सत्य और असत्य के बीच की इस जंग में किसान के साथ खड़ा होने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि देशभक्ति देश की शक्ति की रक्षा होती है। देश की शक्ति किसान हैं। सवाल उठता है कि आज किसान सड़कों पर क्यों है। हजारों किलोमीटर दूर से चलकर क्यों आ रहा है। ट्रैफिक क्यों रोक रहा है।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, “मोदी जी कहते हैं कि ये तीन कानून किसान के हित में है। अगर ये कानून किसान के हित में हैं। तो ये किसान इतना गुस्सा क्यों हैं। किसान खुश क्यों नहीं है। ये कानून नरेन्द्र मोदी जी के दो-तीन मित्रों के लिए है। ये कानून किसान से चोरी करने के कानून हैं और इसलिए हम सबको मिलकर हिंदुस्तान की शक्ति के साथ खड़ा होना पड़ेगा किसान के साथ खड़ा होना पड़ेगा। जहां भी ये किसान भाई हैं। वहां जनता को कांग्रेस कार्यकर्ताओं को आगे बढ़कर इनकी मदद करनी चाहिए, इनको भोजन देना चाहिए और इनके साथ खड़ा होना चाहिए।”

यह भी पढ़ें: जानें नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन के पैर में फ्रैक्चर होने पर क्या बोले ट्रंप

Related Articles

Back to top button