Kisan Andolan: ‘1984 के दंगे में सबसे अधिक आंसू पंजाब के बहे’: PM मोदी

राज्यसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले कि हम ये न भूलें कि जब बंटवारा हुआ तो सबसे ज्यादा पंजाब को भुगतना पड़ा, जब 1984 के दंगे हुए सबसे अधिक आंसू पंजाब के बहे

नई दिल्ली: राज्यसभा की कार्यवाही के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने बोला कि मैं देख रहा हूं कि पिछले कुछ समय से इस देश में एक नई जमात पैदा हुई है ‘आंदोलनजीवी’। वकील, छात्रों, मजदूरों के आंदोलन में ये लोग नजर आते हैं। ये पूरी एक टोली है जो आंदोलन के बिना जी नहीं सकते हैं और आंदोलन से जीने के लिए रास्ते खोजते रहते हैं।

PM किसान सम्मान निधि योजना

पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Scheme) से सीधे किसान के खाते में मदद पहुंच रही है। 10 करोड़ ऐसे किसान परिवार हैं जिनको इसका लाभ मिल गया। अगर बंगाल में राजनीति आड़े नहीं आती तो ये आंकड़ा उससे भी ज्यादा होता। अब तक 1 लाख 15 हज़ार करोड़ रुपये किसान के खाते में भेजे गये हैं।

प्रधानमंत्री ने किसानो के मुद्दे पर कहा कि शरद पवार, कांग्रेस और हर सरकार ने कृषि सुधारों की वकालत की है कोई पीछे नहीं है। मैं हैरान हूं अचानक यूटर्न ले लिया। आप आंदोलन के मुद्दों को लेकर इस सरकार को घेर लेते लेकिन साथ-साथ किसानों को कहते कि बदलाव बहुत जरूरी है तो देश आगे बढ़ता।

मनमोहन सिंह जी ने किसान को उपज बेचने की आजादी दिलाने और भारत को एक कृषि बाजार दिलाने के संबंध में अपना इरादा व्यक्त किया था और वो काम हम कर रहे हैं। आप लोगों को गर्व होना चाहिए कि देखिए मनमोहन सिंह जी ने कहा था वो मोदी को करना पड़ रहा है।

दूध उत्पादन

PM मोदी ने दूध उत्पादन के क्षेत्र में बोला कि दूध उत्पादन (Milk Production) किन्हीं बंधनों में बंधा हुआ नहीं है। दूध के क्षेत्र में या तो प्राइवेट या को-ऑपरेटिव दोनों मिलकर कार्य कर रहे हैं। पशुपालकों जैसी- आजादी, अनाज और दाल पैदा करने वाले छोटे और सीमांत किसानों को क्यों नहीं मिलनी चाहिए।

1984 के दंगा

प्रधानमंत्री ने यह भी बोला कि भारत अस्थिर, अशांत रहे इसके लिए कुछ लोग लगातार कोशिश कर रहे हैं हमें इन लोगों को जानना होगा। हम ये न भूलें कि जब बंटवारा हुआ तो सबसे ज्यादा पंजाब को भुगतना पड़ा, जब 1984 के दंगे हुए सबसे अधिक आंसू पंजाब के बहे।

 

कुछ लोग खासकर पंजाब के सिख भाईयों के दिमाग में गलत चीजें भरने में लगे हैं, ये देश हर सिख के लिए गर्व करता है। कुछ लोग उनके लिए जो भाषा बोलते हैं, उनको गुमराह करने की कोशिश करते हैं इससे कभी देश का भला नहीं होगा।

यह भी पढ़ेValentine 2021 : जानिए क्यों मनाया जाता है Chocolate Day

MSP पर कानून

BKU नेता राकेश टिकैत ने बोला कि MSP पर कानून बने यह किसानों के लिए फायदेमंद होगा। देश में भूख से व्यापार करने वालों को बाहर निकाला जाएगा। देश में अनाज की कीमत भूख से तय नहीं होगी। प्रधानमंत्री को अपील करनी चाहिए कि विधायक और सांसद अपनी पेंशन छोड़े उसके लिए यह मोर्चा धन्यवाद करेगा।

यह भी पढ़ेउत्तराखंड ग्लेशियर त्रासदी: UP हाई अलर्ट, गंगा में बढ़ा उफान

Related Articles

Back to top button