जानें सुनील शेट्टी के जन्मदिन पर उनके बारे में, एक्टर से पहले बनना चाहते थे क्रिकेटर

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर सुनील शेट्टी का 11 अगस्त को जन्मदिन है। बहुत कम लोगों को पता है कि हिन्दी फिल्मों के जरिए पहचान बनाने वाले सुनील शेट्टी कभी क्रिकेटर बनना चाहते थे। लेकिन संयोग ऐसे बैठे की हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में एंट्री हो गई। हालांकि शुरू में परेशानियां आईं। बॉलीवुड की कोई एक्ट्रेस शुरू में उनके साथ काम करने को तैयार नहीं थी, लेकिन सुनील शेट्टी डटे रहे और आज पूरा बॉलीवुड उन्हें अन्ना के नाम से पुकारता है। सुनील शेट्टी का सफर यह नहीं था। आज होटल इंडस्ट्री में भी उनका बड़ा नाम है और नामी-गिरामी सितारों से ज्यादा उनकी कमाई इस बिजनेस से है।

सुनील शेट्टी का जन्म 11 अगस्त 1961 को कर्नाटक के मैसूर में हुई था। बचपन में क्रिकेटर बनने का सपना देखा करते थे। हिंदी सिनेमा में उनकी एंट्री बलवान फिल्म से हुई, जो 1992 में रिलीज हुई थी और उनकी हीरोइन थी दिव्या भारती। इसके बाद 1994 में रिलीज हुई मोहरा फिल्म सुनील शेट्टी के करियर की बड़ी फिल्म साबित हुई। फिर गोपी किशन में उन्होंने डबल रोल कर अपनी एक्टिंग का दमखम दिखाया। शुरू में सुनील शेट्टी की इमेज एक एक्शन हीरो की रही, लेकिन बाद में उन्होंने कॉमेडी में भी सफलता हासिल की। हेरा फेरी, फिर हेरा फेरी, ये तेरा घर ये मेरा घर और दे दना दन उनकी सफल कॉमेडी फिल्में रहीं।

अभी सुनील शेट्टी चुनिंदा फिल्में करते हैं और ज्यादातर ध्यान अपने बिजनेस पर लगाते हैं। होटल इंडस्ट्री के अलावा उन्होंने पुणे में हेल्थ और फिटनेस स्टार्टअप में भी निवेश किया है। प्रोडक्शन हाउस कंपनी पोपकॉर्न मोशन पिक्चर का मालिकाना हक भी सुनील शेट्टी के पास ही है। मुंबई में उनके रेस्त्रां और होटल हैं।

सुनील शेट्टी ने 9 साल की लंबी रिलेशनशिप के बाद बचपन की दोस्त माना से 1991 में शादी रचाई थी। यह तब की बात है जब फिल्मों में सुनील शेट्टी ने करियर शुरू नहीं किया था। माना एक इंटीरियर डिजाइनर हैं। दोनों के दो बच्चे हैं, आदित्य और अहान। आदित्य शेट्टी कई फिल्में में नजर आ चुके हैं, वहीं अहान का डेब्यू भी जल्द होने वाला है। सुनील शेट्टी ने सोनाली बेंद्रे के साथ टक्कर (1995), सपूत (1996), कहर (1997) जैसी फिल्मों में काम किया है।

Related Articles