जानिये सबसे महंगे जेल के बारे में, जहाँ पे 9/11 हमले के खालिद शेख भी है मौजूद

कैदियों पर अत्याचारों के लिए कुख्यात रही क्यूबा की ग्वांतानमो बे जेल दुनिया की सबसे महंगी जेल है। ग्वांतानमो खाड़ी के तट पर स्थित होने की वजह से इस जेल का नाम है ग्वांतानमो बे जेल। जानकारी के मुताबिक, इस जेल में फिलहाल 40 कैदी हैं और हर कैदी पर सालाना करीब 93 करोड़ रुपये खर्च होते हैं। इस जेल में करीब 1800 सैनिक तैनात हैं। यहां सिर्फ एक कैदी पर करीब 45 सैनिकों की नियुक्ति है। जेल की सुरक्षा में तैनात सैनिकों पर हर साल करीब 3900 करोड़ रुपये खर्च होते हैं। इस जेल में कैदियों को इतनी सुरक्षा इसलिए दी जाती है कि यहां कई ऐसे अपराधियों को रखा गया है, जो बेहद ही खतरनाक हैं। बता दें की 9/11 हमले का मास्टरमाइंड खालिद शेख मोहम्मद भी इसी जेल में बंद है।

ग्वांतानमो बे के कैप्टन और वकील ब्रायन एल माइजर का कहना है- जेल को आप अमेरिका के एक छोटे बूटीक की तरह देख सकते हैं। यहां पर अलग-अलग समय पर करीब 770 पुरुष (युद्धबंदी) रह चुके हैं। 2003 में यहां कैदियों की संख्या 677 तक पहुंच गई थी। 2008 में यहां आखिरी बार किसी कैदी को लाया गया था। बुश प्रशासन ने यहां से 540 कैदियों को रिहा कर दिया था, इनमें से ज्यादातर पाकिस्तान, अफगानिस्तान और सऊदी अरब भेजा गया। इसके बाद ओबामा प्रशासन ने 200 कैदियों को रिहा किया।

Related Articles