जानिए Dr. Rammanohar Lohia का राजनीतिक सफ़र, PM और CM ने दी श्रद्धांजलि

दिग्गज समाजवादी पार्टी के भारतीय राजनीतिज्ञ नेता डॉ राम मनोहर लोहिया (Dr. Rammanohar Lohia) की आज जयंती है। तमाम नेता-राजनेता उनको याद कर रहे हैं।

नई दिल्ली: दिग्गज समाजवादी पार्टी के भारतीय राजनीतिज्ञ नेता डॉ राम मनोहर लोहिया (Dr. Rammanohar Lohia) की आज जयंती है। तमाम नेता-राजनेता उनको याद कर रहे हैं। डॉ लोहिया की जयंती के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Modi) और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Cm Yogi Adityanath) ने उनको नमन करते हुए सादर श्रद्धांजलि दी।

भारत की राजनीति में स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान ऐसे कई नेता हुए जिन्होने अपने दम पर शासन का रुख बदल दिया उन में से एक राम मनोहर लोहिया भी थे। राममनोहर लोहिया ने अपने राजनीति तकनीक से देश में कई बदलाव लाए आजादी से पहले ही ला दी थी। आपको बता दें, राम मनोहर लोहिया का जन्म 23 मार्च 1910 में हुआ था। उनके पिताजी श्री हीरालाल पेशे से अध्यापक व हृदय से सच्चे राष्ट्रभक्त थे।

 Rammanohar पर कैसे हुआ गांधी का असर

जब भी उनके पिता गांधी जी से मिलने जाते तो हमेशा राम मनोहर को साथ लेकर जाया करते थे। इसका उन पर गहरा असर पड़ा। जब वह ढाई वर्ष के थे तो उनकी माता चन्दा देवी का देहान्त हो गया। माता की मृत्यु के बाद उन्की दादी और सपयूदेई परिवार की लेविका ने उन्हें पाला। टंडन पाठशाला में चौथी तक पढ़ाई करने के बाद विश्वेश्वरनाथ हाईस्कूल में दाखिल हुए।

यह भी पढ़े

अपनी प्रखर देशभक्ति और तेजस्‍वी समाजवादी विचारों के कारण वह अपने समर्थकों के साथ ही अपने विरोधियों के मध्‍य भी अपार सम्मान हासिल किया। पिताजी के साथ 1918 में अहमदाबाद कांग्रेस अधिवेशन में पहली बार शामिल हुए। बनारस से इंटरमीडिएट और कोलकता से स्नातक तक की पढ़ाई करने के बाद उन्होंने उच्‍च शिक्षा के लिए लंदन के स्‍थान पर बर्लिन का चुनाव किया था।

Related Articles