IPL
IPL

जानिए रहस्यों से भरा ‘निधिवन’ का खौफनाक राज, जिसे सुनकर हो जाएंगे हैरान

उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी मथुरा के वृन्दावन में ‘निधिवन’ (Nidhivan) है। जो बहुत ही पवित्र, रहस्यमयी धार्मिक स्थान है। ऐसी मान्यता है कि निधिवन में भगवान श्रीकृष्ण और राधा अर्द्धरात्रि के बाद ‘निधिवन’ में रास रचाते हैं

मथुरा: उत्तर प्रदेश की धार्मिक नगरी मथुरा के वृन्दावन में ‘निधिवन’ (Nidhivan) है। जो बहुत ही पवित्र, रहस्यमयी धार्मिक स्थान है। ऐसी मान्यता है कि निधिवन में भगवान श्रीकृष्ण और राधा अर्द्धरात्रि के बाद ‘निधिवन’ में रास रचाते हैं। जिसके बाद भगवान निधिवन में ही स्थित ‘रंग महल’ में विश्राम करते हैं।

निधिवन का रहस्य

  • यूपी के जिले मथुरा में स्थित वृन्दावन के ‘निधिवन’ में लाखों श्रद्धालु दर्शन करने आते हैं। और निधिवन का भ्रमण करते हैं। इसी वन में भगवान श्री कृष्ण राधा के साथ रात्रि में रास रचाते है। ऐसी मान्यता है कि वन में स्थित पेड़ रात में गोपियां बन जाती हैं और वह भी श्री कृष्ण के साथ नृत्य करती हैं। जो कोई भी इस राज को रात में रूक कर जाननें की कोशिश करता है सुबह तक अपने होश में ही नहीं रहता है या फिर उसकी मौत हो जाती है।

यह भी पढ़ेSocial Media, OTT Guidelines: 24 घंटे के भीतर हटाना होगा कंटेंट

  • शाम होते ही निधिवन के आस-पास के लोग अपने-अपने मकानों के खिड़की बंद कर देते हैं और वह इस तरफ गलती से भी देखना नहीं चाहते हैं।
  • यहां तक कि बंदर, गायें और पंक्षी भी शाम होने से पहले निधिवन से बाहर चले जाते हैं। इसका खौफ केवल इंसानों में नहीं है जानवरों में भी इसका खौफ है।
  • शाम को निधिवन में स्थित ‘रंग महल’ में बाके बिहारी श्री कृष्ण के आखिरी आरती के बाद मंदिर को 7 तालों में बंद कर दिया जाता है।

  • रंग महल के भितर भगवान जी के शयन कक्ष में पान और दातुन रख दी जाती है। सुबह शयन कक्ष में स्थित बिस्तर पर सिलवटें आ जाती हैं और पान और दातुुन आधे चबाए हुए मिलते हैं।
  • कुछ लोग पेड़ के शाम को गोपी बनने की बात का पता लगाने के लिए पेड़ो पर निशान या धागा बांध देते हैं। लकिन सुबह होने तक वह निशान अपने जगह से गायब हो जातें है।

यह भी पढ़े: भारत-पाकिस्तान ने संघर्ष विराम को लेकर की बातचीत, क्या खुल पायेगा रास्ता ?

Related Articles

Back to top button