जानिए Papaya के औषधीय उपयोग, चेहरे पर झाइयां नहीं होंगी

पपीता के फल का औषधीय उपयोग होता है। पपीता स्वादिष्ट तो होता ही है इसके अलावा स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी है

लखनऊ: पपीता (Papaya) एक फल जिसका औषधीय उपयोग होता है। पपीता स्वादिष्ट तो होता ही है इसके अलावा स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी है। पपीता पाचन योग्य है। इसे खाने से भूख और शक्ति दोनों बढ़ाती है। यह प्लीहा, यकृत को रोगमुक्त रखता और पीलिया जैसे रोगों से मुक्ती देता है। इसके कच्चे और पके फल दोनों ही उपयोग में आते हैं। कच्चे फलों की सब्जी बनती है।

Papaya (पपीता) के औषधीय उपयोग-

  • पपीता के कच्चे फलों से दूध भी निकाला जाता है। जिससे पपेन तैयार किया जाता है।
  • पपेन से पाचन संबंधी औषधियां बनाई जातीं हैं। अत: इसके पक्के फल का सेवन उदरविकार (Abdominal disorder) में लाभदायक होता है।
  • उच्च रक्तदाब (High blood pressure) पर नियंत्रण रखने के लिए पपीते के पत्ते को सब्जी में प्रयोग करते है।
  • पपीते में A, B, D विटामिन और कैल्शियम, आयरन, प्रोटीन आदि तत्त्व प्रचुर मात्रा में होते है। पपीते से त्वचा रोग दूर होते है।

 

  • शरीर के जख्म जल्दी ठीक होते है।
  • पाचन शक्ति बढ़ती है।
  • मूत्राशय Urinary bladder की बिमारी दूर होती है।
  • खांसी के साथ रक्त आ रहा हो तो वह रुकता है।
  • मोटापा दूर होता है।
  • कच्चे पपीता की सब्जी खाने से Memory बढ़ती है।
  • weakness और हृदयरोग होने पर पपीते सेवन करना लाभदायक होता है। इसके साथ ही सिरदर्द भी दूर होता है।इसके सेविन से खट्टी डकार आना बंद होती है।
  • कच्चा पपीता खाने के ये 5 कमाल के फायदे जानकर आप भी रह जायेंगे हैरान - Sanjeevnitoday | DailyHunt

 

  • दाद, खाज खुजली होने पर पपीते का चीक लगाने से फायदा होता है।कच्चे पपीते का रस चेहरे पर मलकर लगाने से फोटो फुंकर, झाइयां नही होती है। 
  • गर्भावस्था में स्त्रियों को पपीता नही खाना चाहिए।

 

पपीते के पेड़ों में नर एवं मादा पेड़ अलग होते हैं। नर पेड़ों में केवल लंबे-लंबे फूल आते हैं। इनमें फल नहीं लगते है।

यह भी पढ़ेTokyo Olympics के लिए 50 दिन का काउंटडाउन शुरू, PM मोदी ने लिया तैयारियों का जायजा

Related Articles