कोरोना वायरस के इलाज में विटामिन सी की भूमिका जानिए- क्या है

नई दिल्ली: कोरोना वायरस महामारी से आज पूरी दुनिया झूस रही है ऐसे में इलाज के लिए दवा या वैक्सीन पर पूरी दुनिया में काम चल रहा है. इस बीच कुछ बातें इसके इलाज में विटामिन C की भूमिका लेकर सामने आई हैं. जबकि विटामिन सी के हाई डोज इंजेक्शन के जरिए कोरोना वायरस से बचाव पर शोध जारी है. मगर अभी इसके बारे में अंतिम नतीजे आने बाकी हैं.बता दे. की मानव शरीर के लिए विटामिन सी सभी विटामिन में अहम समझा जाता है. महिलाओं को प्रतिदिन विटामिन सी की 75 मिलीग्राम जबकि पुरुषों को 90 मिलीग्राम मात्रा की जरूरत पड़ती है. विशेषज्ञों के मुताबिक विटामिन C खुराक का अहम हिस्सा होता है. ये प्रतिरोधक क्षमता को ठीक तरीके से काम करने में मदद पहुंचाता है. डॉक्टरों की सलाह है कि विटामिन C सप्लीमेंट्स से हासिल करने के बजाए आहार से हासिल किया जाना चाहिए. यानी सब्जियों और फलों के जरिए विटामिन C लेना ज्यादा लाभदायक होता है.

विटामिन C कोवि-19 से बचाव में किस हद तक मददगार?

विटामिन C एक शक्तिशाली एंटी ऑक्सीडेंट है जो शरीर के सुरक्षा तंत्र को मजबूत बना सकता है. मौसमी जुकाम का कारण बननेवाले वायरस पर विटामिन C के प्रभाव पर शोध किया गया. शोध रिपोर्ट से मालूम हुआ कि इससे जुकाम से बचने का खतरा कुछ ज्यादा कम नहीं होता. मगर ये संभावित तौर पर जल्द स्वस्थ होने और लक्षण की तीव्रता में कमी लाने का कारण बन सकता है. शोध में ये बात भी सामने आई थी कि विटामिन C स्वाइन फ्लू समेत श्वसन संबंधी बीमारियों के समय फेफड़ों पर होनेवाले वरम में कमी लाता है.

कोविड-19 के इलाज में विटामिन C के हिस्सा होने का दावा रद्द

चीनी पत्रिका में प्रकाशित एक लेख में कोविड-19 के अस्पताल में भर्ती मरीजों को विटामिन C की हाई डोज देने की पुष्टि की गई. ये डोज प्रतिदिन सामान्य मात्रा से बहुत ज्यादा थीं. उन्हें इंजेक्शन के जरिए देकर फेफड़ों के काम को बेहतर बनाया गया. चीनी विशेषज्ञों का कहना है कि विटामिन C इस वक्त कोविड-19 के इलाज का हिस्सा नहीं है क्योंकि उसके बारे में बहुत ज्यादा सबूत मौजूद नहीं पाए गए. हालांकि उन्होंने अभी और शोध की बात से इनकार नहीं किया.

Related Articles