जानिए ‘जबरिया जोड़ी’ के रिलीज़ डेट आगे बढ़ने कि क्या है वजह

मुंबई: परिणति चोपड़ा और सिद्धार्थ मल्होत्रा के अभिनय वाली फिल्म जबरिया जोड़ी का बिहारी कनेक्शन है| जबरिया जोड़ी की कहानी बिहार में जबरन पकड़कर शादी कराने पर आधारित है| 12 जुलाई 2019 की रिलीज डेट का एलान करने के बाद फिल्म ‘जबरिया जोड़ी’ ने अपनी रिलीज डेट बदली, और इसे 2 अगस्त की तारीख पर रख दिया। कुछ ही दिन पहले आई फिल्म ‘खानदानी शफाखाना’ के ट्रेलर लॉन्च के बाद एक बार फिर ‘जबरिया जोड़ी’ की रिलीज डेट बदल दी गई है। यानी पकड़वा विवाह पर बनी इस फिल्म को देखने के लिए दर्शकों को और एक हफ्ता इंतजार करना पड़ेगा।बालाजी टेलीफिल्म्स निर्माणित इस फिल्म की रिलीज डेट अब तक कई बार बदली जा चुकी है।

बालाजी फिल्म और करमा मीडिया इंटरटेनमेंट के बैनर तले बनी इस फिल्म के निर्देशक प्रशांत कुमार सिंह हैं| प्रशांत मूल रूप से आरा (बिहार) के कौंरा गांव के रहने वाले हैं| इनकी पढ़ाई मुंबई में हुई है| बिहारी होने के कारण बिहार की संस्कृति पर एक फिल्म बनाने का विचार इनके मन में आया था| इससे जुड़ा हुआ ऑफर मिलने के बाद इस फिल्म को डायरेक्ट किया है| प्रशांत बताते हैं कि फिल्म पूरी तरह बिहार की संस्कृति पर है.फिल्म में मध्य बिहार के कई इलाकों में पकड़कर शादी करने की प्रथा दिखायी गयी है| उम्मीद है कि बिहार और झारखंड के इस बेटे को लोगों का प्यार मिलेगा| इस मनोरंजक फिल्म के माध्यम से कई प्रकार के सामाजिक संदेश देने का प्रयास किया गया है| जबरिया जोड़ी दहेज की कुप्रथा को भी एक संदेश देती है| फिल्म की पूरी शूटिंग लखनऊ में हुई है|

Related Articles