बड़ी ख़बर जाने किस देश ने बनाई कोरोना की वैक्सीन

अगले सप्ताह से यह वैक्सीन पूरे ब्रिटेन में उपलब्ध हो जायेगी

UK: कोविड -19 के खिलाफ वैक्सीन का लाइसेंस देने वाला पहला पश्चिमी देश बन गया है,जो उन सबसे अधिक जोखिम में शुरू करने के लिए (Pfizer)फाइज़र / बायोऐंटेख़ वैक्सीन के साथ बड़े पैमाने पर टीकाकरण का रास्ता खोल रहा है। कोरोना वैक्सीन को मेडिसिन और हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी अथॉरिटी (MHRA) द्वारा आपातकालीन उपयोग के लिए अधिकृत किया गया है। जो अमेरिका और यूरोप के फैसलों से आगे है। MHRA को 1 जनवरी से पहले विशेष नियमों के तहत सरकार द्वारा टीके को मंजूरी देने की शक्ति दी गई। अगले सप्ताह से यह वैक्सीन पूरे ब्रिटेन में उपलब्ध हो जायेगी।

वैक्सीन कब होगी उपलब्ध 

विश्वस्त सूत्रों के हवाले से मिली खबर के मुताबिक ब्रिटिश सरकार ने मेडिसिन एंड हेल्थ्केयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी की सिफारिश को मंजूर करते हुए फाइजर की कोरोना वैक्सीन के इस्तेमाल को आज मंजूरी दी है। यह वैक्सीन अगले सप्ताह से उपलब्ध हो जायेगी। हालांकि, यह तय करना कि पहले किस आबादी समूह का टीकाकरण किया जायेगा, यह जिम्मेदारी ब्रिटेन की वैक्सीन समिति की है।

फाइज़र के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ अल्बर्ट बर्ला ने क्या कहा 

ब्रिटेन में फाइज़र के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ अल्बर्ट बर्ला ने आज कहा कि कोरोना के खिलाफ जंग में यह एक ऐतिहासिक क्षण है। फाइज़र(Pfizer) ने मंगलवार को बताया था कि उसने अमेरिका, ब्रिटेन और यूरोपीय नियामकों के समक्ष वैक्सीन के सशर्त इस्तेमाल की मंजूरी के लिए आवेदन किया है।ब्रिटेन में फाइज़र (Pfizer) की यह वैक्सीनबी परीक्षण के दौरान 94 प्रतिशत सफल मानी गयी है। आपको बतादें कि लोगो को इस वैक्सीन की दो खुराक लेनी होगी।

 

यह भी पढ़े: शाहीनबाग़ की दादी किसान आंदोलन में पहुँची तो पुलिस ने किया गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button