जानिए किसने लाल किले पर फहराया खालसा का झंडा, पुलिस कर रही तलाश 

लाल क़िले पर चढ़ कर खालसा का झंडा फहराने वाले व्यक्ति का नाम जुगराज बताया जा रहा है।

नई दिल्ली: लाल क़िले पर चढ़ कर खालसा का झंडा फहराने वाले व्यक्ति का नाम जुगराज बताया जा रहा है। जुगराज के द्वारा खालसा का झंडा फहराने को लेकर उसके  गांव और परिवार में काफी खुशी का माहौल था लेकिन बाद में पुलिस की कर्रवाही की बात सामने आई तो खुशी का माहौल डर में बदल गया।

पुलिस के डर से जुगराज गांव छोड़ कर भाग गया है और उसके माता-पिता भी अपना घर छोड़ कर कही और चले गए हैं। उसके घर पर केवल उसके दादा और दादी ही हैं जो पुलिस या मीडिया के सवालों के जवाब दे रहें हैं।

जुगराज के दादा ने कहा

जब जुगराज के दादा से पूछा गया कि वो अपने पोते की हरकत के बारे में क्या सोचते हैं, तो उन्होंने कहा, “बहुत अच्छा लग रहा है ये बाबे दी मेहर है” यानी गुरुओं की मेहरबानी है।

जुगराज के दादा का नाम महल सिंह है, उन्होंने कहा कि जुगराज एक बहुत ही अच्छा लड़का है, ये नही मालूम कि यह घटना उससे कैसे हो गई।

प्रर्दशन कर रहें किसानों ने 26 जनवरी के दिन ट्रैक्टर रैली निकाली उस रैली के दौरान कुछ प्रदर्शनकारी दिल्ली के लाल क़िले की तरफ बढ़ें और किले में प्रवेश कर गए। उन्होंने वहाँ की प्राचीर पर चढ़ कर वहाँ सिखों का पारंपरिक झंडा ‘निशान साहिब’ फहरा दिया था।

अमरिंदर सिंह ने किया ट्वीट

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने इस घटना की कड़ी निंदा की है और भारत सरकार से कहा है कि इस मामले की जांच कर दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन कर रहे किसान नेताओं को परेशान नहीं किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें: PM ने NCC को बताया मददगार, इस तरह की तारीफ

यह भी पढ़ें: Whatsapp की Security हुई टाइट, जल्द आएगा एडिशनल सिक्योरिटी का ऑप्शन

Related Articles

Back to top button