जानिए क्यों England में 11000 लोग एकसाथ निगलने जा रहे हैं कैमरा 

लंदन : England की नेशनल हेल्थ सर्विस ने हाल ही में अपने बयान में कहा कि उन्होंने एक ऐसा कैमरा बनाया है जिसे निगलने भर से आंतो के कैंसर की जाँच की जा सकती है। ये कोविद फ्रेंडली होने के साथ साथ बेहद सेफ भी है। पूरे England में इस का ट्रायल शुरू कर दिया है।

 कैप्सूल से थोड़ा बड़ा ये कैमरा है बेहद एडवांस

एनएचएस के चीफ़ साइमन स्टीवंस ने अपने बयान में कहा कि  हम इन कैप्सूल कैमरों का ट्रायल कर रहे हैं ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोगों की कैंसर की जांच जल्दी और सिक्योर रूप से की जा सके। उन्होंने कहा कि ट्रडिशनल एंडोस्कोपी में जहाँ आम तौर पर पांच से आठ घंटे लगते थे अब इस कैमरे से यही काम मिनटों में किया जा सकता है। इस के साथ साथ इस का प्लस पॉइंट ये है की इस के इस्तेमाल के दौरान सोशल डिस्टेंस बना रहता है जो कि मौजूदा पेन्डेमिक में बेहद ज़रूरी भी है।

ये भी पढ़ें : अनेक बीमारियों का एक समाधान, बस काली मिर्च का करें इस्तेमाल, जीवन हो जायेगा आसान

इस तरह करता है काम

बस इसमें पेशेंट को एक  कैमेरा निगलना होता है जिस के बाद ये कैमरा शरीर के अंदर गुज़रते हुए प्रति सेकंड दो फोटो लेता रहता है।   और ये तस्वीरें पेशेंट की कमर में बंधी एक डिवाइस में स्टोर होती रहती हैं। जिसे डॉक्टर बाद में बड़ी आसानी से इलाज के लिए यूज़  कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें : जॉर्ज फ्लॉयड केस में हुआ कोम्प्रोमाईज़ :FLOYD के परिवार को मिलेंगे 196 करोड़ रुपए

कोलोरेक्टल कैंसर से निपटने में होगा बेहद कारगर

यूके के हेल्थ मंत्री जो चर्चिल ने कहा कि आने वाले वक़्त में एनएचएस में 1 बिलियन पाउंड का इन्वेस्टमेंट किया जाएगा जिससे ऐसी और टेक्नोलॉजीज़ का इन्वेंशन किया जा सके।

ये भी पढ़ें : जानिए कैसे Bitcoin की कीमत एक साल में बढ़ी 1100%

Related Articles