जानिए क्यों कर्नाटक में घर छोड़ एक साथ भागे 3000 लोग !

बेंगलुरु : कर्नाटक में कोरोना के कहर के बीच करीब 3000 मरीज बेंगलुरु से लापता हो गए हैं। कर्नाटक सरकार ने इस खबर की पुष्टि करते हुए कहा कि राज्य के तीन हजार कोरोना मरीज गायब हैं।

इस कड़ी में मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना मरीजों ने अपने फोन स्विच ऑफ कर दिए हैं। जानकारों के मुताबिक इन गायब मरीजों की वजह से दूसरे लोगों में कोरोना फैलने का खतरा बढ़ गया है।

यह 3000 लोग कोरोना की आग में करेंगे घी का काम

कर्नाटक के रेवेन्यू मिनिस्टर आर अशोक ने हाल ही में मीडिया को दिए बयान में कहा कि कोविड से इंफेक्टेड लगभग 3,000 लोग बेंगलुरु से लापता हैं। उन्होंने मीडिया से कहा कि मुझे लगता है कि बेंगलुरु में कम से कम 2,000 से 3,000 लोगों ने अपने फोन बंद कर लिए हैं और अपने घर से कहीं और चले गए हैं। हमें पता नहीं चल रहा कि वह कहां गए हैं।

इस कड़ी में सरकार ने पुलिस को लापता लोगों को जल्द से जल्द ट्रैक करने के लिए कहा है। रेवेन्यू मिनिस्टर ने कहा कि कई इंफेक्टेड पेशेंट्स ने अपने मोबाइल बंद कर लिए हैं। हेल्थ ऑफीशियल्स पुलिस की मदद से इन लापता मरीजों का पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं। इस वाक़िये के बाद मिनिस्टर ने मीडिया के ज़रिये लोगों से अनुरोध किया कि यदि वे कोरोना पॉजिटिव पाए जाते हैं तो प्लीज अपना मोबाइल स्विच ऑफ न करें।

यह भी पढ़ें : कोरोना पॉजिटिव होने पर सरकारी Help के तौर पर मिलेंगे 10,000 रुपये !

Related Articles

Back to top button