जानें आखिर क्यों 19 दिसंबर को कांग्रेस मनाएगी विरोध दिवस

पिछले पंद्रह दिनों से पेट्रोल-डीजल के दाम तो बढ़े ही है साथ ही रसोई गैस के दामों में भी बेतहाशा वृद्धि की जा रही है।

भोपाल: कृषि कानून और गैस सिलेंडरों एवं पेट्रोल डीजल के दामों के वृद्धि के विरोध में 19 दिसंबर को मध्यप्रदेश जिला कांग्रेस एवं ब्लाक कांग्रेस द्वारा विरोध दिवस मनाते हुए कांग्रेसजनों द्वारा उपवास रखा जायेगा, साथ ही जिला मुख्यालयों पर धरना दिया जायेगा।

कांग्रेस की आज जारी विज्ञप्ति में प्रदेश कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष प्रकाश जैन एवं महामंत्री प्रशासन प्रभारी राजीव सिंह ने बताया है कि देश की राजधानी दिल्ली के चारों और अन्य प्रांतों में किसान आंदोलन करते हुए बिल वापस लेने की मांग कर रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार किसानों के शोषण एवं पूंजीपतियों के पोषण से संबंधित तीनों कानूनों को वापस लेना नहीं चाहती है। पिछले पंद्रह दिनों से पेट्रोल-डीजल के दाम तो बढ़े ही है साथ ही रसोई गैस के दामों में भी बेतहाशा वृद्धि की जा रही है। लगभग सौ रूपए की बढोत्तरी रसोई गैस के दामों में हुई है।

विज्ञप्ति में कांग्रेसजनों एवं नागरिकों से अनुरोध किया गया है कि जिला एवं ब्लाक मुख्यालयों पर आगामी 19 दिसम्बर को आयोजित होने वाले विरोध दिवस एवं धरना-प्रदर्शन में अपनी सहभागिता सुनिश्चित कर किसानों एवं आमजनों के हितों की रक्षा के लिए उठाई जा रही आवाज को बुलंद करें।

यह भी पढ़े:

Related Articles