IPL
IPL

जानिए क्यों Kejriwal सरकार ने दिल्ली के दो अस्पतालों के खिलाफ की FIR

नई दिल्ली : कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों से देश का हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर बुरी तरह से चरमरा गया है। कोरोना के मरीजों की बेतहाशा बढ़ोतरी के चलते हेल्थ सिस्टम पूरी तरह से फेल नजर आ रहा है। तेज़ी से बढ़ रहे केसेस से हॉस्पिटल में बीमारों की बाढ़ सी आ गई है। देश की राजधानी दिल्ली के हालत दिन बा दिन बदतर होते जा रहे हैं।

Kejriwal सरकार ने लोगों की सहूलियत खातिर जारी किया था कोरोना ऐप

इस कड़ी में सरकार ने फरमान जारी किया था की हर अस्पताल अपने बेड की जानकारी कोरोना ऐप पर अपडेट करता रहेगी। ताकि वक़्त पड़ने पर तीमारदार को भटकना न पड़े। इस कड़ी में कोरोना ऐप पर बेड की गलत जानकारी अपडेट करने को लेकर राजधानी के दो अस्पतालों के खिलाफ DDMA एक्ट के तहत कार्रवाई कर FIR दर्ज की गई है।

यह भी पढ़ें : एक तरफ कोरोना का कहर तो दूजी ओर मालदीव्स की लहर, वैकेशन पर निकले Bollywood के ये Couple

दरअसल पूरा मसला यह है की, दिल्ली में कोरोना मरीजों को अस्पतालों में बेड उपलब्ध होने की सही जानकारी मिल सके, इसके लिए  Kejriwal सरकार ने कोविड ऐप की शुरुआत की थी।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर मुताबिक, अस्पतालों में से एक जनकपुरी का माता चनन देवी अस्पताल है। पुलिस ने मीडिया को दिए अपने बयान में कहा कि जिलाधिकारी (पश्चिम) के निर्देश के बाद तहसीलदार द्वारका सहित तीन अधिकारियों का एक दल जांच के लिए अस्पताल पहुंचा था। जहाँ जाँच में यह गड़बड़ पाई गई।

यह भी पढ़ें : Bihar,तमिलनाडु में हुआ नाईट कर्फ्यू का एलान, पाबन्दिओं की जानकारी के लिए पढ़ें खबर

Related Articles

Back to top button