IPL
IPL

माइक्रोसॉफ्ट और चीन में तनातनी जानिए क्यों

नई दिल्ली: माइक्रोसॉफ्ट एक्सचेंज सर्वर पर हुए साइबर हमले के बाद कंपनी ने अपने उपभोक्ताओं के लिए एक सिक्योरिटी पैच रिलीज़ किया है और अपने बयान में कहा है कि जल्द से जल्द इसे इंस्टाल करें।

क्या है पूरा मामला

कंपनी ने कहा कि हैकर्स ने हमारे ऑन-प्रिमाइसेस एक्सचेंज सर्वर पर साइबर हमले की कोशिश की है। आप को बताते चले यही वह जगह है जहाँ ईमेल खातों का डाटा स्टोर किया जाता है और अगर कोई इसे भेद जाता है तो वो दुनिया के किसी भी ईमेल से कहीं भी मैलवेयर भेज सकता है।

ये भी पढ़ें : हर अमेरिकी तक COVID-19 वैक्सीन पहुंचाने के लिए बिडेन ने उठाया बड़ा कदम

ब्लूमबर्ग में छपे लेख के अनुसार माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है की हमारे लिए हमारे कस्टमर्स की प्राइवेसी सबसे अहम् है इसी लिए सुरक्षा एजेंसिओं को सूचित करने के साथ साथ हमने इस सिक्योरिटी पैच को जारी किया है ताकि सॉफ्टवेयर की इस कमज़ोरी को तुरंत दूर किया जा सके।

ये भी पढ़ें : बाइडन प्रशासन ने उठाया बड़ा कदम, पहली बार रूस पर लगाया प्रतिबंध, लगाया ये आरोप

इस के लिए कौन है ज़िम्मेदार

ब्लॉग के अनुसार माइक्रोसॉफ्ट ने कहा है कि इस साइबर अटैक के पीछे चीन के हैकर्स थे जो कंप्यूटर मैलवेयर से शोधकर्ताओं, कानून फर्मों, उच्च शिक्षा संस्थानों, नीति थिंक टैंकों और एनजीओ सहित कई उद्योग क्षेत्रों को नुकसान पहुंचने की फ़िराक में थे।

Related Articles

Back to top button