जानें क्यों, नए साल पर भी नहीं होगी आतिशबाज़ी

अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य में वैश्विक महामारी कोरोना के चलते दीपावली की तरह नववर्ष भी घर में परिवार के साथ मनाने एवं आतिशबाज़ी नहीं करने का फैसला किया गया है।

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राज्य में वैश्विक महामारी कोरोना के चलते दीपावली की तरह नववर्ष भी घर में परिवार के साथ मनाने एवं आतिशबाज़ी नहीं करने का फैसला किया गया है। गहलोत ने सोशल मीडिया के जरिए कहा कि कोरोना समीक्षा एवं कोरोना वैक्सीन की तैयारियों से सम्बंधित बैठक में आज यह निर्णय लिया गया।

उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के समय में स्वास्थ्य को सर्वोपरि रखते हुए दीपावली पर सरकार ने जो कदम उठाए थे उसी प्रकार का सख्त निर्णय नव वर्ष के लिए लेने का फैसला किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेशवासी नए वर्ष का जश्न अपने घर में परिवार के साथ मनाएं, भीड़भाड़ से बचें और आतिशबाज़ी न करें यह स्वयं एवं दूसरों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी है।

टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक सेंटर्स

मुख्यमंत्री ने कहा कि उच्चत्तम न्यायालय के कोरोना को लेकर सभी राज्यों के लिए जो निर्देश आए हैं, राजस्थान उनकी कड़ाई से पालना करेगा। बैठक में कोरोना वैक्सीन की तैयारियों पर चर्चा करते हुए निर्देश दिए गए कि हमारी तैयारी पूरी होनी चाहिए। टीकाकरण के लिए अधिक से अधिक सेंटर्स चिह्नित किये जाएं एवं प्रदेश में हर जिले में ब्लॉक स्तर तक समन्वय सुनिश्चित किया जाए।

उन्होंने कहा कि ब्रिटेन में उभर रहे नया कोरोना वायरस के नए तनाव बहुत चिंता का विषय है। केन्द्र सरकार को शीघ्र कार्रवाई कर ब्रिटेन और अन्य प्रभावित यूरोपीय देशों से सभी उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने के लिए एक योजना तैयार करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि जब कोरोना फैलने लगा, तब हमें अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने में देर हो गई थी, जिसके कारण कोरोना मामलों में भारी वृद्धि हुई थी।

मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि एक तैयार योजना के साथ प्रभावित देशों से किसी भी गतिविधि को प्रतिबंधित करने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि कोरोना के नये तनाव के किसी भी प्रकोप के मामले में चिकित्सा विशेषज्ञों को एक उपचार योजना के साथ तैयार रहना चाहिए और स्वास्थ्य प्रोटोकॉल का और भी सख्ती से पालन किया जाना चाहिए।

यह भी पढ़े: सेक्सी अंदाज मे नजर आईं मलाइका, फैंस ने दिया कुछ ऐसा रिएक्शन

Related Articles