जानिए क्यूँ इस लड़की को हरितालिका तीज व्रत कथा पर वीडियो बनाना पड़ा महंगा ,हो रही गिरफ्तारी की मांग

भारत में हिंदू धर्म के लोग हर साल हरतालिका तीज मनाते हैं। इस दिन महिलाएँ अपने पतियों के लिए निर्जला व्रत रखती हैं।महिलायें इस दिन हरितालिका तीज व्रत कथा की एक छोटी सी किताब भी पढ़ती हैं।अब हुआ ये है कि हरितालिका तीज के दिन ही दिल्ली की 1 महिला हैं सुष्मिता सिन्हा जिन्होंने एक वीडियो बनाया। वीडियो हरितालिका तीज व्रत कथा की किताब के ऊपर था।

लोग इस वीडियो को मान रहे हैं अपमानजनक

दरअसल इस किताब में भगवान शंकर और पार्वती बने होते हैं और इसमें उन्हीं की एक छोटी सी कथा भी लिखी हुई होती है। सुष्मिता सिन्हा ने इस पर एक वीडियो बनाया  जिसे उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपलोड किया।उसी के एक हिस्से में उन्होंने इस किताब को रद्दी बताया है। उन्होने कहा इसे मैंने 15 रुपये में ख़रीदा है पर अभी ये मेरे किसी काम की नहीं हैं और भी तमाम बातें सुष्मिता ने उस वीडियो में की है। जिसे लोग हिंदू देवी देवताओं का अपमान मान रहे हैं और हिंदू धर्म का भी अपमान मान रहे हैं।

सुष्मिता ने अपने वीडिओ को बताया सही

ऐसे में ट्विटर पर #arrestsushmitasinha जमकर ट्रेंड कर रहा है। तमाम लोग सोशल मीडिया पर सुष्मिता सिन्हा की गिरफ़्तारी की माँग कर रहे हैं। सुष्मिता सिन्हा पटना की रहने वाली है दिल्ली में 1 अख़बार में काम करती है।अब जब सुष्मिता सिन्हा को अरेस्ट करने की माँग इंटरनेट पर ज़ोर पकड़ने लगी तो सुष्मिता सिन्हा ने अपनी सफ़ाई भी दे दी। उन्होंने एक वीडियो जारी करके कहा है कि उनकी हरितालिका तीज वाले वीडिओ को काटकर शेयर किया जा रहा है। और उनका कहना है कि इस किताब में महिलाओं के विरोध में बातें लिखी गई है। जबकि पुरुषों के लिए कुछ भी नहीं कहा गया। उन्होंने इस किताब को महिला विरोधी बताया है और इसीलिए उन्होंने इस किताब का विरोध किया था ऐसा उनका कहना है।

Related Articles