कोहली एंड कंपनी की सालाना सैलरी घटा सकता है BCCI, ये है बड़ी वजह

0

नई दिल्ली। बीते वर्ष सुप्रीम कोर्ट की बनाई प्रशासकों की समिति यानी (सीओए) ने भारतीय क्रिकेट टीम के सभी खिलाड़ियों की सालाना सैलरी बढ़ाने का जो फैसला लिया था अब उसपर लगता है भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) कैची चला सकती है।

बीसीसीआई

ज्ञात हो कि सीओए ने कुछ वक्त पहले भारतीय क्रिकेटरों के कॉन्ट्रैक्ट में बदलाव करके उसे चार कैटेगरीज में बांट दिया था। ए प्लस कैटेगरी वाले पांच खिलाड़ियों को 7 करोड़ रुपए, ए कैटेगरी वाले खिलाड़ियों कोसात खिलाड़ियों को पांच करोड़ रुपए, बी कैटेगरी वाले 7 खिलाड़ियों के 3 करोड़ रुपए और सी कैटेगरी वाले कई खिलाड़ियों को एक करोड़ रुपए सालाना देने का प्रस्ताव था।

समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रैस की खबर के मुताबिक सीओए ने बीसीसीआई के अनुमति के बिना ही खिलाड़ियों की तनख्वाह बढ़ाने का फैसला किया था। अब बीसीसीआई ने इस फैसले पर आपत्ति जताई है।
बोर्ड के अधिकारियो के लगता है कि खिलड़ियो की फीस में यह यह इजाफा काफी अधिक है और गैरवाजिब भी लिहाजा इस पर बहस होनी चाहिए।

सूत्रों के मुताबिक 22 जून को होने वाली बीसीसीआई की एसजीएम में कोहली एंड कंपनी की तनख्वाह को बढ़ाने के मसले पर बहस जरूर करेंगे।

अब अह देखना होगा कि 22 जून को होने वाली मीटिंग में खिलाड़ियों की तख्वाह में हुई बढ़ोतत्री और अजित सिंह की नियुक्ति पर बीसीसीआई क्या प्रस्ताव पास करती है।

loading...
शेयर करें