कुलदीप सेंगर की पत्नी का टिकट हुआ कैंसिल, भाऊक हुई बेटी ने उठाए कई सवाल, देखें वीडियो

बेटी ऐश्‍वर्या सेंगर ( Aishwarya Sanger ) ने एक वीडियो बनाई और सोशल मीडिया पर शेयर की। यह वीडियो तेजी से वायरल हो रही है। 

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश पंचायत ( Uttar Pradesh Panchayat ) चुनाव में उन्नाव जिला पंचायत चुनाव में सजायाफ्ता BJP विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ( Kuldeep Singh Sengar ) की पत्नी संगीता Sanger की उम्मीदवारी की सीट रद्द कर दी गई है। जिससे नाखुश उनकी बेटी ऐश्‍वर्या सेंगर ( Aishwarya Sanger ) ने एक वीडियो बनाई और सोशल मीडिया पर शेयर की। यह वीडियो तेजी से वायरल हो रही है।

कुलदीप सिंह सेंगर की बेटी ऐश्वर्या सेंगर ने टि्वटर पर एक वीडियो डाल कर फैसले पर कई सवाल खड़े किए हैं। ऐश्वर्या Sanger ने अपनी मां संगीता Sanger का वीडियो टिकट कटने के बाद शेयर किए गए। इस वीडियो में यह पूछते हुए नजर आ रही हैं कि आखिर उनकी माता और उनके परिवार की क्या गलती है, जो उनका टिकट जिला पंचायत चुनाव में काट दिया गया।

वीडियो में उन्होंने कहा कि मेरा नाम क्या है उससे शायद अब फर्क ही नहीं पड़ता मेरा सरनेम सिंगर है पिछले 3 साल से मेरे परिवार के साथ अन्याय पर अन्याय किया जा रहा है। मेरी मां संगीता सिंह सेंगर पिछले 15 वर्षों से उन्नाव में जिला पंचायत सदस्य हैं सक्रिय राजनीति का हिस्सा रही हैं। और ईमानदारी व निष्ठा के साथ अपना हर दायित्व निभाती हैं। इसी कारण सभी सदस्यों के द्वारा पंचायत अध्यक्ष भी चुना गया। आज उनकी एक्सपीरियंस,उनकी मेहनत, उनकी हर एक चीज को ताक पर रख दिया गया।

दुष्कर्म के आरोप में उम्र कैद की सजा काट

बता दें कि बीजेपी ने दुष्कर्म के आरोप में उम्र कैद की सजा काट रहे पूर्व विधायक कुलदीप सेंगर की पत्नी संगीता सेंगर उन्नाव को उम्मीदवार बनाया था, लेकिन आलोचना को देखते हुए बाद में उनकी की उम्मीदवारी रद्द कर दी है। इसके बाद अब कुलदीप सिंह सेंगर की बेटी ऐश्वर्या सेंगर उनके पक्ष में सामने आयी हैं।

उन्नाव की अलग-अलग विधानसभा सीटों से कुलदीप सिंह सेंगर 4 बार विधायक रहा है। साल 2017 विधानसभा चुनाव में भाजपा के टिकट पर विधायक रहे कुलदीप सिंह सेंगर को साल 2018 में उन्नाव दुष्कर्म मामले में गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद भाजपा ने कुलदीप सिंह सेंगर को अगस्त 2019 में पार्टी से निष्काषित कर दिया था। कुलदीप सिंह सेंगर को कोर्ट से दोषी करार दिए जाने के बाद उसे उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।

यह भी पढे़ं: IIT छात्र की कोरोना से मौत, आईआईटी- रुड़की में था क्‍वारंटाइन

Related Articles

Back to top button