अब कुमार विश्वास ने भी जेटली के आगे झुकाया सिर, कहा- केजरीवाल आदतन झूठे

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी (आप) के नेताओं द्वारा लगातार मांगी जा रही माफी का सिलसिला अभी भी जारी है। अभी बीते महीने जहां दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल सहित चार नेताओं ने अपने बयानों को लेकर केंद्रीय मंत्रियों से माफी मांगी थी। वहीं अब इस फेहरिस्त में एक नाम और जुड़ गया है। दरअसल, आप नेता कुमार विश्वास ने केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली को पत्र लिखकर माफी मांगी है।

मिली जानकारी के अनुसार, मानहानि के मुक़दमे का सामना कर रहे कुमार विश्वास ने पत्र के माध्यम से जेटली से माफी मांगी है। उन्होंने अपने इस पत्र में लिखा है कि पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल के कहने पर ही उन्होंने और पार्टी के कार्यकर्ताओं ने बातें दोहरायी थीं। अब अरविंद केजरीवाल का उनसे संपर्क नहीं हैं और झूठ बोल कर वह स्वयं गायब हो गए हैं।

इसके अलावा अपने पत्र में कुमार विश्वास ने केजरीवाल के खिलाफ लिखा है कि केजरीवाल आदतन झूठे हैं और पार्टी कार्यकर्ता होने के नाते उन्होंने सिर्फ़ अरविंद की बात दुहराई थी। उधर, इस पत्र के बारे में जानकारी देते हुए जेटली के वकील ने बताया कि कुमार विश्वास का माफीनामा उन्हें मिल गया है जिसके बाद अरुण जेटली ने कुमार विश्वास पर से मानहानि का मुकदमा भी वापस ले लिया है।

आपको बता दें कि केजरीवाल ने डीजीसीए का अध्यक्ष रह चुके अरुण जेटली पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। उनका आरोप था कि जेटली के कार्यकाल के दौरान डीजीसीए में कई नियमों का उल्लंघन किया गया था। पार्टी के अन्य नेताओं ने भी जेटली पर इसी तरह के आरोप लगाए थे।

बिना सबूत लगातार आरोप लगाने पर अरुण जेटली ने उन्हें पहले तो मानहानि का केस करने की चेतावनी दी थी। इस चेतावनी को अरविंद केजरीवाल एंड टीम ने एक धमकी के तौर पर लिया और चुनौती पेश की कि वह कोर्ट जाएं वहां पर अपने आप केस से जुड़े आरोपों की सच्चाई सामने आ जाएगी। इस पर जेटली ने इन सभी के खिलाफ अदालत में दस करोड़ रूपए मानहानि का मामला दर्ज कराया था।

हालांकि खुद को फंसता देख केजरीवाल सहित सभी नेताओं ने बीते महीने पत्र लिखकर जेटली स माफी मांग ली। अपने माफीनामे में जेटली ने कहा था कि अरुण जेटली को कल लिखे एक पत्र में केजरीवाल ने कहा है कि उन्होंने उन्हें उपलब्ध कराए गए कुछ कागजात के आधार पर आरोप लगाए थे लेकिन अब इनकी जांच से उन्हें पता लगा है कि ये आरोप निराधार थे।

उन्होंने कहा था कि यह देखते हुए वह उनसे माफी मांगते हैं। केजरीवाल के अलावा संजय सिंह, आशुतोष और चड्ढा ने भी इसी तरह पत्र लिखकर जेटली से माफी मांगी थी। जेटली ने भी उन्हें माफ़ कर दिया है।

Related Articles