सीएम पद को लेकर कुमारस्वामी ने किया बड़ा खुलासा, कहा- कांग्रेस ने बनाया था दबाव

बेंगलुरू। अभी बीते दिनों कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन कर मुख्यमंत्री के पद पर आसीन हुए जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने एक बड़ा खुलासा किया है। इस चुनाव में भले ही कांग्रेस ने भले ही 78 सीटें हासिल की थी लेकिन इसके बावजूद मात्र 37 सीटों पर विजय हासिल करने वाली जेडीएस के नेता कुमारस्वामी मुख्यमंत्री पद पर आसीन हुए। इस बात को लेकर उनका कहना है कि मेरे पिता नहीं चाहते थे कि मैं मुख्यमंत्री बनू लेकिन कांग्रेस के दबाव की वजह से यह पद लेना पड़ा।

कुमारस्वामी ने कहा जब चुनाव के नतीजे घोषित हुए और कांग्रेस ने मेरे पिता एचडी देवेगौड़ा से संपर्क किया तो उन्होंने कांग्रेस से कहा था कि वह मुख्यमंत्री का पद अपने पास रखें। लेकिन कांग्रेस ने इस बात पर जोर दिया कि मैं मुख्यमंत्री का पद अपने पास रखूं और सरकार का नेतृत्व करूं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे पिता ने कांग्रेस के नेताओं से कहा कि मेरा दो बार दिल का ऑपरेशन हो चुका है और मेरी तबियत ठीक नहीं है, उन्होंने कहा था कि कांग्रेस मुख्यमंत्री का पद अपने पास रखे, लेकिन कांग्रेस के नेताओं ने मुझे मुख्यमंत्री बनाए जाने पर दबाव दिया। मुझे इस बात का डर था कि विधानसभा में मैं मिडलमैन की तरह सरकार चलाउंगा।

कुमारस्वामी ने बताया कि मैंने पहले ही सुना था कि कैसे मिडलमैन अधिकारियों तक 10 करोड़ रुपए पहुंचाता है, मुझे इन परिस्थितियों में सरकार चलाने का भय था, मैंने इस बाबत अपने पिता से चिंता जाहिर की थी, इसके बाद मेरे पिता ने कांग्रेस के नेताओं से मेरी बात को आगे रखा था।

उन्होंने कहा कि मेरा लोगों की सेवा करने के अलावा कुछ भी करने की अभिलाषा नहीं है, मैं पैसा नहीं कमाना चाहता हूं और ना ही कुछ बनना चाहता हूं। मुझे नहीं पता है कि मैं कबतक जिंदा रहुंगा, लेकिन अब मैंने इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है, मैं सरकार को चलाउंगा और इस बात को सुनिश्चित करुंगा कि सरकार बेहतर तरह से चले। उन्होंने कहा कि मैं भ्रष्टाचार से लड़ने के लिए मैं पूरी तरह से संकल्पित हूं, मैं चरणबद्ध तरीके से इसे खत्म करुंगा। एक साथ भ्रष्टाचार को खत्म नहीं किया जा सकता है, अगर एक साथ मैं यह करना शुरू कर देता हूं तो मैं अपना पद खो दूंगा।

Related Articles