Kumbh Mela: कुंभ की थीम पर सज उठे है स्टेशन, Corona रिपोर्ट अनिवार्य

हरिद्वार रेलवे स्टेशन पर यात्रियों को अच्छा अनुभव देने और धार्मिक वातावरण बनाने के लिए स्टेशन को कुंभ की थीम पर सजाया गया है

हरिद्वार: आस्था का सबसे बड़ा कुंभ मेला (Kumbh Mela) इस बार उत्तराखंड की देव भूमि हरिद्वार (Haridwar) में आयोजित हो रहा है। कुंभ मेला की शुरूआत 1 अप्रैल से होगी और समापन 30 अप्रैल को होगा। जिसके लिए कुंभ में कोरोना वायरस पर काबू पाने के लिए भारत सरकार ने सभी यात्रियों के लिए कोविड-19 (COVID-19) की निगेटिव रिपोर्ट और सर्टिफिकेट को मुख्य रूप से अनिवार्य किया है। कुंभ मेला के लिए इस बार हरिद्वार स्टेशन को कुंभ की थीम पर सजाया गया है।

यात्रियों को अच्छा अनुभव

हरिद्वार स्टेशन पर यात्रियों को अच्छा अनुभव देने और धार्मिक वातावरण बनाने के लिए स्टेशन को कुंभ की थीम पर सजाया गया है। मुरादाबाद के DRM ने बताया, ‘कुंभ क्षेत्र में जितने भी स्टेशन आते हैं, उन सब में भीड़ प्रबंधन, सौंदर्यीकरण, यात्रियों की सुविधा के लिए काम किए गए हैं’।

यह भी पढ़ेसाइलेंट किलर INS करंज सबमरीन Indian Navy में शामिल, चीन और पाकिस्तान अब थर्राने वाले है

गृह मंत्रालय का आदेश

गृह मंत्रालय ने 65 साल से अधिक उम्र के लोगों और गर्भवती महिलाओं एंव 10 साल के कम उम्र के बच्चों को कुंभ मेले में न आने की सलाह दी है। मंत्रालय ने यह कहा है कि यात्रियों की कोरोना टेस्ट (Corona test) की रिपोर्ट 72 घंटे से पुरानी न हो। इस रिपोर्ट के बिना कुंभ में यात्रियों कोनहीं आने देने का निर्देश दिया है।

कुंभ में शाही स्नान

देव भूमि हरिद्वार में श्रद्धालु हर साल कुंभ के मेले में आस्था कि डूबकी लगाते है। इस साल कुंभ का पावन मेले का शुभारंभ 11 मार्च को महाशिवरात्रि के दिन हो रहा है। कुंभ में साधु-संतो के चार शाही स्नान होते हैं। इस मेले में दुनियाभर के लोग गंगा में स्नान करने के लिए आते है। यह मेला 48 दिनों तक चलता रहता है। इस मेले में कई धार्मिक और सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन कराया जाता है।

यह भी पढ़ेCorona Vaccination: देश में 13.5 लाख से ज्यादा लोगों की लगी वैक्सीन, जानें संक्रमण का आंकड़ा

Related Articles