IPL
IPL

कुवैत सरकार पर गहराया संकट, मंत्रिमंडल ने दिया इस्तीफा

कुवैत की सरकार अब संकट के दौर से गुजर रहा है, यहां पर सरकार और सांसदों के बीच बढ़ते विरोध के बाद मंत्रिमंडल ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है।

कुवैत: कुवैत (Kuwait) की सरकार अब संकट के दौर से गुजर रहा है, यहां पर सरकार और सांसदों के बीच बढ़ते विरोध के बाद मंत्रिमंडल (Cabinet) ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है। ये नया साल कुवैत (Kuwait) की सरकार के लिए बहुत बुरा साबित हो रहा है, महीने की शुरुआत में 30 सांसदों ने सरकार के खिलाफ एक अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन किया था।

इस कदम से साफ पता चलता है कि देश में राजनीतिक गतिरोध की वजह से स्थिति खराब होती जा रही है और यहां के लोगो में भरोसा खत्म होता जा रहा है। तेल समृद्ध वाला यह देश कई सालो से सबसे खराब आर्थिक संकट (Economic Crisis) का सामना कर रहा है।

ये भी पढ़ें : यूपी में ओवैसी के आगमन पर स्वामी प्रसाद मौर्य का बयान, नहीं गलेगी आपकी दाल

संसद में लगभग 60 फीसदी से ज्यादा मंत्रिमंडल के शामिल होने के बाद से इस नियुक्तियों के विरोध में प्रधानमंत्री से कई सवाल-जवाब किये गए। इसी के विरोध में मंत्रिमंडल के मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है। संसद में हुए इस विरोध की अहम वजह यह है कि पुराने अध्यक्ष को फिर से बहाल करने को लेकर ही नए सांसदों में काफी आक्रोश दिखा था, जो कि देश में भ्रष्टाचार और सरपरस्ती के तंत्र के फिर हावी होने का संदेह जता रहे हैं।

ये भी पढ़ें : दिल्ली (Delhi) में आठ आइपीएस अधिकारियों का हुआ तबादला, देखें पूरी लिस्ट

संसद के पुराने अध्यक्ष का ताल्लुक बड़े कारोबारी परिवार से जुड़ा है। विरोधी सांसदों ने बताया है कि प्रधानमंत्री को अब अपना इस्तीफा अमीर शेख नवाफ अल अहमद अल सबाह को सौंप दिया है और अनुमान लगाया जा रहा है कि सबाह उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया जायेगा।

Related Articles

Back to top button