La Nina की वजह से भारत में पड़ सकता है भयंकर जाड़ा : रिपोर्ट

लखनऊ : भारत के कुछ राज्यों में इस बार कड़ाके की ठड़ पड़ सकती है। जनवरी और फरवरी में देश के कुछ उत्तरी इलाकों में तापमान तीन डिग्री सेल्सियस तक नीचे जा सकता है। इसकी वजह है La Nina

La Nina से बढ़ सकती है कोयले की खपत

प्रशांत क्षेत्र में ठन्डे समुद्र और गर्म हवा के मिलन से बनता है ला नीना। इस कड़ी में ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट के मुताबिक, कई देश जो  बिजली के संकट से जूझ रहे हैं। जहाँ कोयले और गैस के दाम पहले से उच्चतम स्तर पर हैं। ऐसे में कड़ाके की ठंड से इन चीजों की मांग और बढ़ेगी। इस कड़ी में मौसम जानकार रेनी वांडेवेगे ने कहा कि हम उम्मीद कर रहे हैं कि पूरे उत्तरपूर्व एशिया में इस बार सर्दी में तापमान सामान्य से कम रहेगा।

इस कड़ी में भारत में जनवरी-फरवरी में उत्तरी इलाकों में तापमान तीन डिग्री सेल्सियस तक जाने की संभावना है। इस कड़ी में, मौसम विभाग ने एक पूर्वानुमान में कहा है कि तमिलनाडु और पुडुचेरी में सोमवार से 29 अक्टूबर तक अलग-अलग हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। इसके अलावा 25 से 27 अक्टूबर तक केरल में भी भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने कहा कि कर्नाटक में सोमवार और मंगलवार को बारिश हो सकती है, जबकि 28 और 29 अक्टूबर को तटीय आंध्र प्रदेश में बरसात होगी।

यह भी पढ़ें : land border सिक्योरिटी पर चीन ने किया नया कानून पारित

Related Articles