इन राज्यों के अस्पतालों में बेड की कमी, कोरोना से मरने वालों की संख्या ज्यादा

देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 1.62 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं।

नई दिल्ली: देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना से 1.62 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं। वहीं 800 से अधिक लोगों की कोरोना संक्रमण के कारण मौत हुई है। वर्तमान में कोरोना के सक्रिय मामलों को देखा जाए तो 12 लाख से अधिक पहुंच चुकी है। ऐसे में महाराष्ट्र दिल्ली उत्तर प्रदेश के सभी राज्यों में कोरोना के मामले तेजी से पैर पसार रही है। एक तरफ जहां कोरोना संक्रमण के मामलें थमने का नाम नहीं ले रही है तो दूसरी ओर मरने वालों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रहा है।

प्रदेश में कुल 9 तेजी से बढ़ रहा है की राजधानी लखनऊ में अब संपूर्ण लॉकडाउन लगाने का संभावना बढ़ गई है क्योंकि यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक ने स्वास्थ्य सचिव को खत लिखा। पत्र में कहा है कि अगर नियमों का पालन नहीं किया गया और ऐसा ही चलता रहा तो लखनऊ में लॉकडाउन लग जाएगा। दरअसल लखनऊ के अस्पतालों में बेड्स की कमी है, इस कारण कोरोना संक्रमितों के लिए दिक्कतें अब सामने आने लगी हैं। वहीं कई स्थानों पर टेस्टिंग की समस्याएं भी सामने आ रही हैं।

महाराष्ट्र के जिलों में लॉकडाउन

आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली और महाराष्ट्र के कई अस्पतालों में बेड्स की कमी के साथ साथ अस्पतालों में इलाज के लिए आए लोगों की कतार लंबी होती जा रही हैं। साथ ही कई स्थान ऐसे हैं जहां लाशों के ढेर लगे पड़े हैं। हाल ही में महाराष्ट्र सरकार द्वारा केंद्र पर निशाना साधा गया था और राज्य सरकार ने केंद्र से वैक्सीन आपूर्ति की मांग की थी। वहीं कई अस्पतालों द्वारा बताया गया कि वैक्सीन की कमी है। कुछ ऐसा ही हाल राजधानी दिल्ली का भी है।

कोरोना की महामारी से बचने के लिए महाराष्ट्र सरकार ने अपने जिलों में लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। वहीं राजधानी दिल्ली में केवल नाइट कर्फ्यू 30 अप्रैल तक के लिए लगाया गया है। जो रात के 10 बजे से सुबह के 5 बजे तक जारी रहता है। हालांकि इस बीच राजधानी दिल्ली में भी लॉकडाउन लगने की सुगबुगाहट तेज हो चुकी है, लेकिन इस बाबत अब तक कोई भी अधिकारिक बयान नहीं जारी किया गया है।

यह भी पढ़ें: Coronavirus New Symptoms: सिर्फ Taste और Smell ही नहीं जा रहा, मुंह में हो रहे ये नए लक्षण, रहें Alert

Related Articles

Back to top button