ललितपुर: चार बच्चों की हत्या मामले में CM योगी दुखी, प्रशासन को दिया ये आदेश

मंगलवार को देर शाम एक ही परिवार के चार बच्चों के शव मछली पालन की पानी से भरी खदान में उतराते मिले थे. पुलिस ने चारों शवों का आज पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया लेकिन परिजनों ने अंतिम संस्कार करने से इंकार कर दिया.

ललितपुर: यूपी में ललितपुर के पुराकलां थानाक्षेत्र में एक ही परिवार के चार बच्चों की मौत पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा शोक व्यक्त किया और प्रशासन को परिजनों को आर्थिक मदद देने के आदेश दिये.

बच्चों के शवों का आज पोस्टमार्टम किया गया और इसके बाद शव परिजनों को सौंप दिये गये लेकिन परिजनों ने सगे चाचा पर बच्चों की हत्या का आरोप लगाते हुए अंतिम संस्कार करने से मना कर दिया. परिजन अंतिम संस्कार से पहले हत्या की एफआईआर दर्ज कराने की मांग पर अड़े थे. इस विवादास्पद परिस्थिति में पुलिस और प्रशासन परिजनों को समझाने में लगे रहे.

 

बता दे कि मंगलवार को देर शाम एक ही परिवार के चार बच्चों के शव मछली पालन की पानी से भरी खदान में उतराते मिले थे. पुलिस ने चारों शवों का आज पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया लेकिन परिजनों सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने शवों को गांव ले जाकर अंतिम संस्कार करने से इंकार किया. मृतक रवीन्द्र व ब्रजेन्द्र के पिता मुकुन्दी ने आरोप लगाया कि उनके बच्चों की मौत पानी मे डूबने से नहीं हुई हैं, उन्हें जहर देकर मार डाला व शवों को पानी से भरी खदान में फेंक दिया.

उन्होंने चाचा पर ही आरोप लगाते हुए बताया कि चाचा ने ही जमीनी विवाद के चलते हत्या कर शवों को फेंका है वह एफआईआर दर्ज करने की मांग कर रहे हैं. विवाद की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे उपजिलाधिकारी व क्षेत्राधिकारी तालबेहट परिजनों को समझाने में लगे हुए हैं और कार्रवाई का आश्वासन दे रहें हैं. वहीं प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने चार बच्चों के तालाब में डूबने पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए प्रशासन से आर्थिक सहायता राशि देने के निर्देश दिए थे.

यह भी पढ़े: यूपी में 3 नवम्बर तक कार्यभार ग्रहण करेंगे नव-नियुक्त 31,277 बेसिक शिक्षक

Related Articles