प्रभु श्रीराम के नाम पर अयोध्या में जमीन घोटाला, घोटाले में मानन‍ियों के नाम पर CM योगी की सख्ती, दिए ये निर्देश

प्रभु श्रीराम के नाम पर अयोध्या में जमीन घोटाला सामने आया है

अयोध्या में राम मंदिर के पांच किलोमीटर के दायरे में विधायक, महापौर और पुलिस-प्रशासन के कई अधिकारियों व कर्मचारियों के रिश्तेदारों के नाम पर जमीनें खरीदने के मामले की राज्य सरकार जांच कराएगी. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपर मुख्य सचिव राजस्व मनोज कुमार सिंह को मामले की जांच कराने का आदेश दिया है.

पांच दिन में देंगे रिपोर्ट

अपर मुख्य सचिव राजस्व ने विशेष सचिव राजस्व राधेश्याम मिश्रा को मामले की जांच कर पांच दिन में रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है. विशेष सचिव राजस्व मौके पर जाकर जांच करेंगे और अपनी रिपोर्ट देंगे.

बड़े पैमाने पर जमीनें खरीदी

बता दें राम जन्मभूमि मंदिर पर शीर्ष अदालत का फैसला आने के बाद अयोध्या में अधिकारियों-नेताओं व उनके रिश्तेदारों ने बड़े पैमाने पर जमीनें खरीदी हैं. करोड़ों की ये जमीनें औने-पौने दाम पर खरीदी गई हैं. इसका खुलासा होने के बाद योगी सरकार ने इसकी जांच कराने का फैसला किया है.

 

यह भी पढ़ें- दुनिया का इकलौता ‘वॉकिंग ट्री’, लगभग 250 साल से ज्यादा है पुराना, जानें सब कुछ

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles