अतिक्रमण पर बड़ी कार्यवाई, 45 अवैध दुकानों को कब्जे से कराया मुक्त

भोपाल जिला प्रशासन ने आज यहां नगर निगम और पुलिस बल के साथ मिलकर लगभग 100 करोड़ रुपए कीमती लगभग 20 हजार वर्गफीट सरकारी भूमि को अतिक्रमण मुक्त करा लिया।

भोपाल: भोपाल जिला प्रशासन ने आज यहां नगर निगम और पुलिस बल के साथ मिलकर लगभग 100 करोड़ रुपए कीमती लगभग 20 हजार वर्गफीट सरकारी भूमि को अतिक्रमण मुक्त करा लिया। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार यहां भोपाल रेलवे स्टेशन के पास स्थित इस बेशकीमती भूमि को कुछ लोगों ने अवैध रूप से व्यावसायिक संस्थान निर्मित करने के अलावा अन्य संदिग्ध गतिविधियों के संचालन का अड्डा बना रखा था।

कलेक्टर अविनाश लवानिया ने बताया कि जिला प्रशासन के दल ने अतिक्रमण के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए 45 अवैध दुकानों को जेसीबी मशीन द्वारा हटा दिया। सभी दुकानों को हटाकर शासन की बेशकीमती भूमि अतिक्रमण से मुक्त करा दी गई है। उन्होंने बताया कि अतिक्रमण से मुक्त कराई गई ज़मीन का औसत मूल्य लगभग 100 करोड़ रुपये है।

ये भी पढ़े : औरंगाबाद में 40 लाख रुपये मूल्य का 77.2 ग्राम ब्राउन शुगर बरामद, चार गिरफ्तार

सूत्रों ने कहा कि इस संबंध में न्यायालयीन प्रकरण भी था, जिसमें शासन के पक्ष में निर्णय हो चुका था। उन्होंने बताया कि यहां पर रहने वाले लोग भी कई बार संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त पाए गए। लगातार कार्रवाई करने के बाद और इनके विरुद्ध अतिक्रमण हटाने के नोटिस जारी किए जाने के बावजूद भी अतिक्रामकों द्वारा अतिक्रमण नहीं हटाया गया था, जिसके बाद आज की कार्रवाई की गई। अतिक्रमण हटाने के दौरान स्टेशन क्षेत्र में सुरक्षा के सख्त प्रबंध किए गए थे। इस क्षेत्र में ईरानी डेरा वालों का कब्जा था।

Related Articles