पीएम मोदी को धमकी देने वाले लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी को होगी फांसी की सजा

0

बनगांव: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हत्या की साजिश रचने वाले लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी अब्दुल नईम उर्फ़ शेख समीर को शनिवार को सजा सुनाई जानी है. जानकारी के मुताबिक़ पश्चिम बंगाल के बनगांव महकमा अदालत के न्यायाधीश विनय कुमार पाठक ने सुनवाई के दौरान शेख समीर से पूछा कि तुम्हें तुम्हारे अपराध के लिए किस तरह की सजा दी जानी चाहिए? इसपर उसने कुछ नहीं कहा. वहीँ इस मामले पर न्यायाधीश ने अगले शनिवार को फैसला सुनाने की घोषणा की है. वहीँ शेख लश्कर-ए-तैयबा का काफी सक्रिय सदस्य था.

लश्कर-ए-तैयबा

वहीँ सीमा सुरक्षा बल ने अप्रैल 2007 में उसे पेट्रापोल सीमा स्थित एक मकान से तीन अन्य लोगों के साथ गिरफ्तार किया था. जिन अन्य तीन अपराधियों की गिरफ्तार किया गया था उनका नाम मोहम्मद यूनुस, शेख अब्दुल्ला और मुजफ्फर अहमद राठौड़ हैं.

पाकिस्तान करेगा एशिया कप-2020 की मेजबानी

बता दें कि सीआइडी ने चारों के खिलाफ देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने, हथियार जमा करके रखने समेत कई आरोपों में मामला दर्ज किया था. शेख समीर मूल रूप से महाराष्ट्र के औरंगाबाद का रहने वाला है. सॉफ्टेवयर इंजीनियर समीर 2005 में सऊदी अरब गया था. वहां लश्कर-ए-तैयबा के एजेंट अहमद से उसका परिचय हुआ. शेख समीर वहां से पाकिस्तान चला गया. वहां उसने आतंकी प्रशिक्षण लिया.

loading...
शेयर करें