लश्कर के निशाने पर मोदी और संसद, खुफिया एजेंसी के अलर्ट के बाद ‘आपरेशन ब्लैक रोज’

0

del-operation-black-rose-1-580x395नई दिल्‍ली। नए साल से पहले राजधानी दिल्ली में कई जगहों पर मॉक ड्रिल की गई। दरअसल ये मॉक ड्रील खुफिया एजेंसियों के अलर्ट के बाद की गई। खुफिया एजेंसियों ने नए साल के अवसर पर देश में कई जगहों पर आतंकी हमले को लेकर अलर्ट जारी किया। इसमें बताया गया है पाकिस्तान के आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा के आतंकी पीएम नरेंद्र मोदी और संसद भवन को निशाना बना सकते हैं।

अलर्ट में बताया गया है कि ये आतंकवादी परमाणु ठिकानों और सेना के मुख्यालय पर भी हमला कर सकते हैं। एजेंसियों ने आतंकी संगठन की सूचनाओं को पकड़ने के बाद यह अलर्ट जारी किया है।

आपको बता दें कि पीएम मोदी काबुल से स्वदेश लौटते समय भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्तों को बेहतर करने के लिए हाल ही में लाहौर का अचानक दौरा करके लौटे हैं। उनकी इस यात्रा के बाद खुफिया एजेंसियों ने यह अलर्ट जारी किया है। अलर्ट में बताया गया है कि सीमा पार से करीब 18 आतंकवादी देश में घुसे हैं।

ऑपरेशन ब्लैक रोज

सुरक्षाबलों ने मंगलवार रात दिल्‍ली में ‘ऑपरेशन ब्लैक रोज’ के तहत कई जगहों पर मॉक ड्रिल किया। कमांडो और सुरक्षाकर्मियों ने वसंत कुंज मॉल, पालिका बाजार और नेहरू प्लेस मेट्रो स्टेशन के पास एक फूड कोर्ट में मॉक ड्रिल किया।

वहीं, दिल्ली पुलिस ने प्रमुख मॉलों और शॉपिंग परिसरों को खाली कराया। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि इन सुरक्षा अभ्यासों के लिए शहर में सभी पुलिस रेंज के संयुक्त आयुक्तों को पहले से निर्देश दिया गया था और समूचा ऑपरेशन पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) की निगरानी में हुआ।

अभ्यास का बड़ा हिस्सा रात नौ बजे के बाद किया गया क्योंकि नया साल मनाने वाले लोगों के देर शाम उमड़ने की उम्मीद होती है।

loading...
शेयर करें