जनरल बिपिन रावत का हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले के अंतिम क्षण

नई दिल्ली: भारत के शीर्ष जनरल, चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत के बुधवार को एक दुर्घटना में 12 अन्य लोगों के साथ मारे जाने के बाद तमिलनाडु में नीलगिरी के पास एक हेलीकॉप्टर के उड़ने और धुंध में गायब होने का वीडियो सामने आया है।

यह वीडियो स्थानीय लोगों से प्राप्त किया गया, जाहिर तौर पर कल दोपहर पहाड़ों में दुर्घटनाग्रस्त होने से पहले भारतीय वायु सेना के Mi 17 V5 हेलिकॉप्टर के अंतिम क्षणों को कैप्चर करता है। वायु सेना ने वीडियो की प्रामाणिकता पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

वीडियो में हेलिकॉप्टर को पहाड़ियों के ऊपर से उड़ते हुए सुना जाता है जब आवाज में बदलाव गवाहों को कम कर देता है। जब गवाह सामान्य दिशा में देखते हैं तो चॉपर की आवाज बिल्कुल नहीं सुनाई देती है। एक व्यक्ति पूछता प्रतीत होता है: “क्या हुआ? क्या यह गिर गया या दुर्घटनाग्रस्त हो गया?” एक और आवाज जवाब देती है: “हां”।

बिपिन रावत और पत्नी मधुलिका का हुआ था निधन

बता दें कि, जनरल रावत, उनकी पत्नी मधुलिका रावत और 11 अन्य की मौत हो गई थी, जब हेलिकॉप्टर कोयंबटूर में सुलूर वायुसेना अड्डे से वेलिंगटन के रास्ते में दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। एकमात्र जीवित बचे व्यक्ति ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह हैं, जिनका वेलिंगटन के सैन्य अस्पताल में गंभीर रूप से जलने के लिए इलाज किया जा रहा है।

सुबह 11:48 बजे उड़ान भरने वाला हेलिकॉप्टर उतर रहा था और 10 मिनट में उतर सकता था। दोपहर करीब 12:22 बजे उसके लापता होने की सूचना मिली। जनरल रावत छात्रों और फैकल्टी को संबोधित करने के लिए डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज (DSSC) गए थे। हेलिकॉप्टर नजदीकी मुख्य सड़क से करीब 10 किलोमीटर दूर नीचे आ गया, जिससे आपातकालीन कर्मियों को दुर्घटनास्थल पर जाने के लिए मजबूर होना पड़ा।

एक चश्मदीद ने कहा कि उन्होंने दुर्घटना से पहले यात्रियों को हेलीकॉप्टर से गिरते देखा था और एक व्यक्ति मलबे से रेंग कर बाहर आ गया था। एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने आज दुर्घटनास्थल का दौरा किया और दुर्घटना के कारणों की जांच शुरू की।

आज दिल्ली लाया जाएगा पार्थिव शरीर

वहीं आज बिपिन रावत और उनकी पत्नी के पार्थिव शरीर को मिलिट्री विमान से दिल्ली लाया जाएगा. मिली जानकारी के अनुसार कल यानी शुक्रवार को जनरल रावत के अंतिम दर्शन के लिए उनका शव उनके आवास पर रखा जाएगा। लोग सुबह 11 से 2 बजे तक रावत को अंतिम सलामी दे पाएंगे।

उत्तराखंड में तीन दिवसीय राजकीय शोक की घोषणा

बता दें कि बिपिन रावत के निधन के कारण उनके गृह राज्य उत्तराखंड में तीन दिवसीय राजकीय शोक की घोषणा की गई है। वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह समेत तमाम विपक्षी नेताओं ने भी जनरल बिपिन रावत और अन्य के निधन पर शोक जताया है।

यह भी पढ़ें: लालू के बेटे तेजस्वी यादव कल दिल्ली में शादी के बंधन में बंधेंगे

Related Articles