#HBDayAtal : Intolerance पर बयान देने वालों, सुनो अटल का ये बयान…

27 मई 1996 को तत्‍कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने अपना विश्वास प्रस्ताव रखा था, उस समय सिर्फ एक मत से उनकी सरकार गिर गई थी। इसके बाद उन्‍होंने अपने बयान में इस बात को साफ किया कि जिन दलितों पर देश में राजनीति हो रही है, वह दलित सबसे ज्‍यादा भाजपा में बतौर सांसद शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button