Lateral Entry के तहत प्राइवेट सेक्टर के प्रोफेशनल्स की ऊँचे पदों पर हुए भर्ती

नई दिल्ली : यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन ने सेंट्रल गवर्नमेंट के विभिन्न मंत्रालयों में खाली सीनियर पदों पर 31 लोगों को Lateral Entry के तौर पर भर्ती किया है। इनमें से तीन लोगों को ज्वाइंट सेक्रेटरी स्तर के पद पर भर्ती किया गया है, जबकि 19 लोगों को विभिन्न मंत्रालयों में डायरेक्टर स्तर पर भर्ती किया गया है।

अच्छे ओहदों पर की गई भर्ती

इसके अलावा कई लोगों को डिप्टी डायरेक्टर लेवल पर हायर किया गया है। जिन विभागों में ज्वाइंट सेक्रेटरी स्तर पर भर्ती किया गया है, उनमें वित्त मंत्रालय के तहत आने वाला डिपार्टमेंट ऑफ रेवेन्यू, डिपार्टमेंट ऑफ कॉमर्स और डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर कोऑपरेशन एंड फार्मर्स वेलफेयर शामिल हैं।

Lateral Entry का मतलब यहां यह है कि भर्ती किए गए सभी लोग प्राइवेट सेक्टर के प्रोफेशनल्स हैं, जिन्हें सीधे मंत्रालयों में सीनियर पदों पर भर्ती किया गया है। इन लोगों ने आईएएस की परीक्षा नहीं पास की है, बल्कि प्राइवेट सेक्टर में इनके अनुभव को देखकर इन्हें हायर किया गया है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक यूपीएससी ने आवेदनों के आधार 231 उम्मीदवारों को शॉर्टलिस्ट किया था, जिनका 27 सितंबर से 8 अक्टूबर 2021 के बीच इंटरव्यू किया गया था। इंटरव्यू के आधार पर 31 लोगों की सीधी भर्ती कर ली गई है।

यह भी पढ़ें : एक दिन में कोविड infection के 19,740 नए मामले, 248 हलाक

Related Articles