भारत बंद आंदोलन में न बिगड़े कानून व्यवस्था, लखनऊ पुलिस कमिश्नर ने दिए निर्देश 

लखनऊ पुलिस कमिश्नर डी० के० ठाकुर ने कमिश्नरेट लखनऊ के समस्त राजपत्रित अधिकारियों के साथ आज सोमवार रात्रि मीटिंग की और सभी आवश्यक दिशा निर्देश दिए है। 

लखनऊ: केंद्र द्वारा लाए गए कृषि कानून के खिलाफ देश की राजधानी दिल्ली सहित कई राज्यों में पिछले 11 दिनों से किसानों का प्रदर्शन जारी है। किसानों ने कल आठ दिसंबर मंगलवार को भारत बंद का आवाहन किया है। किसान आंदोलन को लेकर कल भारत बंद को ध्यान में रखते हुए लखनऊ पुलिस कमिश्नर डी० के० ठाकुर ने कमिश्नरेट लखनऊ के समस्त राजपत्रित अधिकारियों के साथ आज सोमवार रात्रि मीटिंग की और सभी आवश्यक दिशा निर्देश दिए है।

कल आठ दिसंबर मंगलवार को उत्तर प्रदेश में भारत बंद आंदोलन को विफल करने के लिए शासन ने कार्यवाई शुरू कर दी है। भारत बंद आंदोलन को लेकर यूपी डीजीपी ने हर जिले के पुलिस अधिकारियों को पत्र लिखकर अलर्ट रहने का आदेश दिया है। कल अगर किसी ने भी जबरदस्ती दुकानें बंद कराने का प्रयास किया तो उसके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

लखनऊ पुलिस कमिश्नर ने दिए निर्देश 

 

किसान आंदोलन को लेकर किसानों द्वारा कल मंगलवार को भारत बंद के आह्वान कोध्यान में रखते हुए पुलिस कमिश्नर लखनऊ ने आज सोमवार को कमिश्नरेट लखनऊ के समस्त राजपत्रित अधिकारियो के साथ शहर में शांति बनाए रखने के लिए कैम्प कार्यालय पर एक मीटिंग का आयोजन किया।

ये भी पढ़ें : देश के तीन राज्यों में कोरोना से सर्वाधिक मौतें

भारत बंद को देखते हुए लखनऊ पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने अफसरों की बैठक बुलाई।सीएम योगी की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट के अफसरों की बैठक बुलाई। बैठक में सभी जोन के डीसीपी, एडिशनल डीसीपी बुलाए गए। हजरतगंज आलमबाग महानगर गोमती नगर सर्किल के एसीपी भी बैठक में शामिल। कल भारत बंद का ऐलान को देखते हुए पुलिस की तैनाती पर बैठक हुई। बैठक में पुलिस फोर्स के साथ इंटेलिजेंस की टीम भी शामिल।

ये भी पढ़ें : ब्रिटेन-यूरोपीय संघ ब्रेक्सिट व्यापार सौदे के लिए अंतिम वार्ता शुरू

मीटिंग के दौरान पुलिस कमिश्नर लखनऊ द्वारा कानून-व्यवस्था बनाये रखने हेतु चाक-चौबंद सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इन्तेजामात करते हुए कमिश्नरेट लखनऊ के समस्त राजपत्रित अधिकारियों को विशेष सतर्कता/सुरक्षा व्यवस्था बरतने हेतु निर्देशित किया गया। लखनऊ पुलिस कमिश्नर ने सभी लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है। उन्होंने कहा अगर किसी को प्रदर्शन करना है तो संविधान के दायरे में कर सकता है। बाजारों में अगर कोई जबरन दुकाने या प्रतिष्ठान बंद करवाया तो किसी भी किसान संगठन, किसान संगठन के पदाधिकारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।

Related Articles