तेंदुए ने गर्दन पकड़कर ले ली बच्चे की जान

Leopard_BNEEN6_3036645bश्रावस्ती। श्रावस्ती के सोहेलवा गांव में मंगलवार देर शाम खेत में जा रहे 12 वर्षीय एक लड़के पर तेंदुए ने पीछे से हमला कर दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। ग्रामीणों ने तेंदुए का पीछा किया, लेकिन तब तक तेंदुआ बच्चे को लेकर एक झाड़ी में छिप गया। इससे पहले कि ग्रामीण झाड़ी को काट कर बच्चे को मुक्त कराते उसकी मौत हो गई।

सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने घटनास्थल का जायजा लिया। साथ ही मृतक के परिवार को 10 हजार रुपए की आर्थिक सहायता दी।

 

ये खबर भी पढ़ें...सावधान ! लखनऊ में घूम रहा है Leopard

क्या था पूरा मामला

सिरसिया थाना क्षेत्र का ग्राम सोहेलवा जंगल के बीच बसा है। जहां से वन कार्यालय सोहेलवा मात्र 500 मीटर की दूरी पर है। मंगलवार को सोहेलवा निवासी रामदयाल गौतम अपने खेत में गेहूं की बोआई कर रहा था। उसने अपने बेटे रामजीते (9) को स्कूल न भेज कर उससे गेहूं का बीज लेकर खेत आने को कहा था। दोपहर करीब 12 बजे रामजीते बीज लेकर खेत जा रहा था।

जैसे ही वह प्राथमिक प्राथमिक विद्यालय सोहेलवा व वन कार्यालय के बीच पहुंचा तभी झाड़ियों में छिपे एक तेंदुए ने उस पर हमला बोल दिया। इससे पहले कि पीछे आ रहे ग्रामीण नान्हू व रक्षाराम कुछ कर पाते तेंदुआ रामजीते की गर्दन पकड़ कर झाड़ियों में भाग गया। ग्रामीणों के शोर मचाने पर पहुंचे अन्य ग्रामीण जब तक झाड़ियों को काट कर रामजीते को तेंदुए के चंगुल से मुक्त कराते उसकी मौत हो गई।

पूरा इलाका तेंदुए की दहशत में

सिरसिया इलाके के सोहेलवा रेंज में इस समय तेंदुए का जबरदस्त आतंक है। पूरा इलाका तेंदुए की दहशत में है। मंगलवार देर शाम रामजीते (12) पुत्र राम दयाल अपने काम से खेत की ओर जा रहा था। इसी दौरान रास्ते में ही उस पर तेंदुए ने पीछे से हमला कर दिया। जब तक रामजीते कुछ समझ पाता, तेंदुआ उस पर पूरी तरह से हावी हो चुका था। हमले से कुछ देर बाद मौके पर ही उसकी मौत हो गई। वहीं, जैसे ही ये खबर गांव में पहुंची, लोगों में हड़कंप मच गया। गुस्‍साए ग्रामीणों ने तेंदुए को पकड़ने के लिए वन विभाग की टीम पर दबाव बनाया। रामजीते की मौत के बाद घर में कोहराम मचा हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button