बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व का नाम लेकर एलजेपी कर रही वोटरों को गुमराह :प्रकाश जावड़ेकर

 

नई दिल्ली: बिहार में न सिर्फ चुनाव नजदीक आ रहा है। उसके साथ बयानों की सरगर्मिया भी तेज होती जा रही है। बिहार चुनाव में राजनीतिक दलों के गठबंधन का मामला किसी को समझ नहीं आ रहा है। एनडीए से अलग होकर एलजेपी के चुनाव लड़ने के निर्णय के बाद बीजेपी ने लगातार अपने बयानों से निशाना साध रखा है।

बिहार में सिर्फ चार पार्टियाँ मिलकर लड़ रही चुनाव : बीजेपी

शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बिहार में एलजेपी के चुनाव निति पर बयान देते हुए कहा कि एलजेपी बिहार के चुनावों में कोई प्रभाव नहीं डाल पाएगी। एलजेपी बिहार के चुनावों में सिर्फ एक वोटकटवा पार्टी बनकर रह जाएगी। जावड़ेकर ने अपने बयान में कहा की बिहार में केवल चार पार्टियां (बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी) ही साथ मिलकर चुनाव लड़ रही हैं। बीजेपी भी यह स्पष्ट कर चुकी है कि एलजेपी बिहार में बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व का नाम लेकर वोटरों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है।

बिहार में एनडीए को एक-चौथाई बहुमत मिलने का किया दावा

प्रकाश जावड़ेकर ने अपने बयान में कहा की चिराग पासवान ने बिहार में एक अलग रास्ता चुना है। वह बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं का नाम लेकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। प्रकाश जावड़ेकर ने बिहार में एनडीए को एक-चौथाई बहुमत मिलने का दावा किया है। साथ ही प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि ये बड़े दुर्भाग्य की बात है कि एलजेपी के कई नेता गलत जानकारी फैला रहे हैं।

बीजेपी के राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव ने भी साधा निशाना

बीजेपी के राज्यसभा सांसद भूपेंद्र यादव ने शुक्रवार को एक ट्वीट किया। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि, “प्रधानमंत्री जी के नाम के इस्तेमाल पर चिराग पासवान भ्रम पैदा करना चाहते हैं. बिहार चुनाव में एनडीए में ‘BJP-JDU-VIP व HAM’ गठबंधन में हैं. LJP से न हमारा गठबंधन है, न ही चुनाव में वो NDA का हिस्सा हैं. चिराग को न भ्रम में रहना चाहिए, न भ्रम पालना चाहिए और न भ्रम फैलाना चाहिए”।

एलजेपी एक वोटकटवा पार्टी की तरह कर रही व्यवहार :संबित पात्रा

बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने भी शुक्रवार को एलजेपी पर खुलकर बयान दिए। संबित पात्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बोले कि बीजेपी की कोई बी, सी या डी टीम नहीं है। एलजेपी बिहार की जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि हमारी केवल एक टीम है, जिमसें बीजेपी, जेडीयू, हम और वीआईपी शामिल है। चिराग पर निशाना साधते हुए संबित पत्र ने कहा कि, एलजेपी अपने अस्तित्व के लिए संघर्ष कर रही है. बिहार में कई सारी छोटी पार्टियां अपने बलबूते पर चुनाव लड़ रही हैं। एलजेपी एक वोटकटवा पार्टी की तरह व्यवहार कर रही है।

ये भी पढ़ें: उद्धव सरकार की बर्खास्तगी की याचिका SC ने ख़ारिज की, बोले ‘राष्ट्रपति के पास जाइए’

Related Articles