Loan : मनी लेंडिंग में इस कंपनी ने मारी एंट्री, यूज़्ड व्हीकल करेगी फाइनेंस

नई दिल्ली : पीरामल ग्रुप ने होलसेल लोन सेगमेंट के बाद अब अपना फोकस रिटेल Loan की तरफ शिफ्ट कर दिया है। जिसके तहत अब पीरामल ग्रुप की फाइनेंस कंपनी पीरामल रिटेल फाइनेंस ने रिटेल मनी लेंडिंग मार्केट में एंट्री मार कस्टमर्स को पुरानी कार यानी सेंकेंड हैंड कार खरीदने के लिए लोन देने का ऐलान कर दिया है।

3000 करोड़ रुपये का Loan बाटने का है टारगेट।

पीरामल रिटेल फाइनेंस के सीईओ जयराम श्रीधरन ने मीडिया को दिए अपने बयान में कहा कि कंपनी ने कंज्यूमर और यूज़्ड कार  फाइनेंस के बिजनेस में कदम रख दिया है जिसके तहत कंपनी अब Cars24 से कार खरीदने वालों को लोन देगी। इस के लिए पीरामल रिटेल ने ज़ेस्टमनी के साथ टाई-अप किया है। सीईओ के मुताबिक कंपनी की योजना अगले 1 साल में 3000 करोड़ रुपये का लोन बांटने की है।

श्रीधरन ने बताया कि इसके अलावा कंपनी की अपने कस्टमर्स को एजुकेशन लोन, छोटे बिजनेस के लिए अनसिक्योर्ड लोन और लोन अगेंस्ट सिक्योरिटीज (LAS) यानी शेयर के बदले लोन देने कीभी योजना है। और इसे मुमकिन करने के लिए कंपनी नेक्स्ट फिस्कल ईयर में सेल्स, क्रेडिट अंडरराइटिंग और टेक्नोलॉजी सेक्टर में 1000 लोगों को नौकरी देगी। DHFL की को नीलामी में जीतने के बाद कंपनी ने सारी कानूनी कार्यवाही पूरी का लीं हैं बस चंद रेगुलेटरी अप्रूवल का आना बाक़ी है। जानकारों की माने तो इसके बाद पीरामल ग्रुप का लोन बुक 40% बढ़ जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दें की अभी पीरामल ग्रुप का टोटल लोन बुक 45,000 करोड़ रुपये का है, जिसमें से 11% रिटेल बिजनेस से है।

यह भी पढ़ें : Home ministry : अगले फरमान तक इस पोस्ट तक के सारे एम्प्लॉय वर्क फ्रॉम होम करेंगे

Related Articles