स्थानीय अदालत ने हत्या के आरोप में दो भाइयों को दी उम्रकैद की सजा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बांदा जिले की एक स्थानीय अदालत ने गुरुवार को जमीनी विवाद में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या के दोषी दो सगे भाइयों को आजीवन कारावास व अर्थदंड सुनाया।

जिला शासकीय अधिवक्ता कैलाश चौबे ने शुक्रवार को बताया कि जिला एवं सत्र न्यायाधीश चंद्रभान (तृतीय) की अदालत ने 6 मार्च 2007 को गिरवां थाने के मुरवां गांव में जमीनी विवाद में सुधीर निगम की उसके दरवाजे में ही गोली मारकर हत्या कर दिए जाने के मामले में आरोप साबित हो जाने पर उसी के गांव के सगे भाई ललित मोहन श्रीवास्तव और श्याम मोहन को गुरुवार को आजीवन कारावास व दोनों दोषियों को 20-20 हजार रुपये का अर्थदंड सुनाया।”

उन्होंने बताया कि एक आरोपी गंगा सहाय की सुनवाई के दौरान मौत हो चुकी थी, जबकि एक अन्य नाबालिग आरोपी की पत्रावली किशोर न्यायालय भेजी गई है।

Related Articles