CM और नगर आयुक्त के आदेशों की धज्जियाँ उड़ा रहा लखनऊ नगर निगम, स्थानीय आक्रोशित

CM और नगर आयुक्त के आदेशों की धज्जियाँ उड़ा रहा लखनऊ नगर निगम, स्थानीय आक्रोशित

लखनऊ: कोरोना और अन्य संचारी रोग की रोकथाम के लिए नगर निगम भले बड़े-बड़े दावे और वादे करता रहे पर तस्वीर कुछ और है। राजधानी पर स्मार्ट सिटी के नाम से केंद्र सरकार लाखों करोड़ों खर्च करे, लेकिन स्थिति जस की तस बनी हुई है। ताज़ा मामला लखनऊ के जोन 7 का है, बता दें कि जोन 7 के शहीद भगत सिंह वार्ड में खुले आम स्मार्ट सिटी के दावे और वादों की धज्जियां उड़ाई जा रही है, जोनल अधिकारी से लेकर पार्षद और सफाई कर्मचारी तक लगातार लापरवाही बरतते हुए नज़र आ रहे है, जिसका खामियाजा स्थानीय लोगो को भुगतना पड़ रहा है।

बता दें कि नगर निगम के अधिकारियों की लापरवाही से जोन 7 के भगत सिंह वार्ड में गंदगी का अंबार लगा हुआ है। प्रदेश सरकार के गड्ढामुक्त सड़क के दावे और वादे यहां खोखले साबित हो रहे हैं। जोन 7 के जोनल अधिकारी मुख्यमंत्री और नगर आयुक्त अजय कुमार द्विवेदी के आदेशों की धज्जियां उड़ाते हुए नज़र आ रहे है।

नगर निगम ने अभी तक नहीं किया वार्ड में Sanitization

कोविड 19 संक्रमण के बढ़ते प्रभाव को कम करने के लिए प्रदेश का स्वास्थ महकमा हर तरह के जरुरी कदम उठाने के लिए निर्देश जारी कर रहा है। पर ये आदेश लखनऊ के शहीद भगत सिंह वार्ड में खोखले साबित हो रहे हैं। यहाँ न तो कोरोना की रोकथाम के लिए नगर निगम ने sanitization कराया न अभी तक डिफॉगगिंग की गई। बढ़ते डेंगू के प्रकोप को लेकर भी किसी तरह के महत्वपूर्ण कदम वार्ड में अभी तक नहीं उठए गए हैं। स्थानियों ने बताया कि अधिकारियों और इलाके के पार्षद की लापरवाही की वजह से कई लोगो की डेंगू से जान तक जा चुकी है।

ये भी पढ़ें : IPL 2020: विराट के बेहतरीन प्रदर्शन पर अनुष्का का इजहार-ए-इश्क

स्थानीय लोगो का कहना है कि इस पूरे मामले को लेकर स्थानीय पार्षद से लेकर संबंधित अधिकारी से कई बार शिकायत की गई लेकिन किसी ने मामले की सुध तक नही ली, जिसकी वजह ने हम नरक भोगने को मजबूर है।

Related Articles