नॉन वेज से बनेगा Diesel, फर्राटे भरेंगी गाड़ियां

लंदन। अगर रात के डिनर के बाद कबाब बच गए हैं तो उन्हें फेंकने की जरूरत नहीं पड़ेगी। बस यहां के बस ड्राइवरों को ये कबाब दें और ये मदद करेंगे बस के दौड़ने में। दरअसल, लंदन के ट्रांसपोर्ट विभाग ने बचे हुए खाने जिनमें विशेष रूप से कबाब शामिल हैं, उनसे डीजल बनाने का अनोका तरीका निकला है। इसे नए साल की शुरुआत से बसों में प्रयोग किया जाएगा। इनसे एक खास तरह का क्लींजर डीजल बनेगा, जिसे बी 20 कहा जाता है। यह ईंधन के रूप में उपयोग होगा।

london-bus1_1451109497

मार्च से लंदन की आधे से भी ज्यादा बसों में इनका प्रयोग किया जाएगा। जिसके लिए प्रयोग अभी से शुरु हो चुके हैं। वहां के ट्रांसपोर्ट विभाग के माइक वेस्टन का कहना है कि इसके लिए बसों के इंजन में किसी तरह के मशीनी बदलाव की जरूरत नहीं है। इससे प्रदूषण की स्थिति में भी बदलाव होगा क्योंकि ये पूरी तरह से ग्रीन फ्रेंडली हैं। ये बाकी के फ्यूल की अपेक्षा काफी सस्ता भी है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button