लव जिहाद: कर्नाटक के विधानसभा सत्र में पेश किया जा सकता है विधेयक

मंगलुरु: लव जिहाद को लेकर अब पूरे देश में चर्चा होना शुरु हो गई है। उत्तर प्रदेश में जहां कानून बना दिया गया है। वहीं कई राज्यों में इसको लागू करने को लेकर प्रस्ताव लाया जा रहा है। कर्नाटक में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष नलीन कुटील ने विधानसभा में लव जिहाद का विधेयक पेश करने को लेकर बात कही है।

BJP प्रदेश अध्यक्ष नलीन कटील ने पार्टी के ग्राम स्वराज अधिवेशन को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार गौ हत्या प्रतिबंध विधेयक को फिर से पेश करेगी। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेता प्रदेश में ‘विवाह के लिए जबरन धर्मांतरण प्रथा’ पर रोक लगाने के लिए कानून बनाने के प्रयास में जुटे हैं। पार्टी ने गौ हत्या पर प्रतिबंध लगाने की भी बात दोहराई है।

यूपी में बना कानून

उत्तर प्रदेश धर्मांतरण संबंधी बिल अध्यादेश के मसौदे को राज्यपाल से अनुमोदन के लिए बुधवार को राजभवन में भेजा गया था। कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद इस अध्यादेश को राज्यपाल के पास भेजा गया था जिसे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने मंजूरी दे दी है। इस मंजूरी के मिलते ही धर्मांतरण संबंधी बिल अध्यादेश के रूप में पूरे यूपी में लागू हो गया है। इस अध्यादेश को अब छह माह के भीतर विधानमंडल के दोनों सदनों में पास कराना होगा।

डीएम से लेनी होगी इजाजत

उत्तर प्रदेश में लव जिहाद के मामले सामने आने के बाद योगी सरकार ने लव जिहाद के खिलाफ कानून लाने का ऐलान किया था और अब इस कानून पर योगी कैबिनेट ने मुहर भी लगा दी है। मंगलवार को गैरकानूनी धर्म परिवर्तन अध्यादेश कैबिनेट मीटिंग में भी पास हो गया था। अध्यादेश के मुताबिक, दूसरे धर्म में शादी करने पर अब डीएम की इजाजत लेनी होगी।

यह भी पढ़ें: Mann Ki Baat: कोरोना बढ़ते मामलों को लेकर PM मोदी ने कहा, ‘बहुत घातक हो सकती’

Related Articles