बढ़ रहा अपराधों का ग्राफ, एक बार फिर हुई लाखों की डकैती, सीसीटीवी में देखें वारदात

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में अपराधियों के हौसले बढ़ते जा रहे है और पुलिस नाकाम साबित हो रही है। रातो को चलते हुए राहगीरों से पूछताछ करने वाली पुलिस के कानो में खबर भी नहीं होती और अपराधी चोरी-डकैती जैसी बड़ी वारदात को अंजाम देकर फरार हो जाते है। रोजाना लखनऊ (Lucknow) में चोरी-डकैती की बड़ी वारदात सामने आ रही है। इस बार अलीगंज के सेक्टर बी निवासी दवा कारोबारी दिनेश अग्रवाल के घर को डकैतों ने सरेशाम निशाना बनाया है।

पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, अलीगंज थाना क्षेत्र के सेक्टर बी के रहने वाले दवा कारोबारी दिनेश अग्रवाल के घर बुधवार शाम करीब 8.30 बजे डकैतों ने धावा बोल दिया। घर में घुसकर 5 डकैतों ने असलहे के दम पर गार्ड को बंधक बनाकर मारा-पीटा और बाथरूम में बंद कर दिया। उसके बाद घर की अलमारी से जेवरात व 9 लाख रुपये नकदी लूट कर फरार हो गए है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच शुरू की। कारोबारी दिनेश को अपने दो पुराने नौकरों पर इस घटना को लेकर शक है, पुलिस इस आधार पर आरोपियों को तलाशने में जुट गई है। पुलिस ने गार्ड को हिरासत में लिया है और पूछताछ की जा रही है।

ये भी पढ़ें : नई MERCEDES BENZ ई-क्लास की लॉन्च की डेट रिलीज़ :आइये समझते हैं कि क्या हो सकते हैं नये बदलाव

नकदी और जेवरात हुए साफ़

दिनेश अग्रवाल ने बताया है कि बुधवार की शाम आठ बजे अपने घर के करीब में बेटी घर गए हुए थे लगभग एक घंटे के करीब वापस आने पर देखा की घर का दरवाजा अंदर से बंद था खुलने पर नहीं खुला, फिर बेटी को सूचना दी। थोड़ा सा आगे बढ़ते ही देखा की दो युवक भागते हुए निकल गए। अंदर जाकर देखा तो दरवाजा टूटा हुआ था। आलमारी से नौ लाख रुपये की नकदी और जेवरात लूट कर फरार हो गए है। दिनेश ने आनन-फानन में पुलिस को सूचना दी। मौके पर अलीगंज इंस्पेक्टर सहित पुलिस टीम पहुंच गई।

ये भी पढ़ें : Zomato डिलीवरी बॉय से रहें सावधान! ऑर्डर कैंसिल से पहले पढ़ें पूरी खबर, नहीं तो…

सीतापुर रवाना हुई पुलिस

घटना की जानकारी लगते ही मौके पर एसीपी अखिलेश सिंह, एडीसीपी प्राची सिंह व डीसीपी रईस अख्तर भी पहुंचे और जांच पड़ताल शुरू की। इसके बाद घर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाली गई। इस फुटेज में 5 डकैत दिखाई दें रहे है जो इस घटना को अंजाम देने पहुंचे, डकैतों ने चहरे को मास्क व रूमाल से ढंका हुआ था। डीसीपी ने बताया है कि बदमाशों के अलावा दिनेश का गार्ड भी सीतापुर का रहने वाला है। बदमाशों को पकड़ने के लिए दो टीम गठित की गई और टीमों को सीतापुर के लिए रवाना कर दिया गया है।

 

 

Related Articles