लखनऊ: मंदिर में लूटपाट के बाद बदमाशों ने पुजारी को उतारा मौत के घाट

लखनऊ: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी लखनऊ (Lucknow) के बख्शी का तालाब (Bakshi Ka Talab) में एक तीर्थस्थल पर मंगलवार की देर रात वहां रहने वाले पुजारी की हत्या कर दी गई। हत्यारों ने देवस्थल के घंटे, दानपात्र की रकम, तेल और अनाज भी लूट लिया। घटना की सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने छानबीन करनी शुरू कर दी, वहीं घटनास्थल पर एसपी (ग्रामीण) ह्यदेश कुमार, सीओ डॉ ह्यदेश कठेरिया ने मामले की जांच करने के सख्त आदेश दिए। पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया।

बता दें कि बीकेटी थाना क्षेत्र में शिवपुरी रोड पर पुजारी की हत्या की वारदात रणबाबा तीर्थस्थल पर हुई। तीर्थस्थल पर रहने वाला पुजारी फकीरेदास सुल्तानपुर जिले का रहने वाला बताया जाता है। शिवपुरी के ग्रामीणों के मुताबिक देवस्थान पर पुजारी 15 वर्षों से रहता था। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि घटना के पीछे लूटपाट की बात सामने आ रही है। घटनास्थल पर पुजारी के पास रखा दानपात्र टूटा पड़ा था और उसमें से रुपये भी गायब मिले, साथ ही परिसर में बने कमरे से अनाज और तेल भी गायब था। पुजारी के सिर पर ईंट से वार करने की वजह से गहरे चोट के निशान मिले हैं।

एसपी ने लूटपाट से किया इंकार

ग्रामीणों ने बताया कि देवस्थल पर लगे पेड़ पर करीब ढाई कुंतल से अधिक घंटे घंटिया बंधी थी जो सुबह गायब मिली। आंशका जताई जा रही है कि लूटपाट का विरोध करने पर बदमाशों ने पुजारी के सिर पर ईंट से मारकर हत्या कर दी। पुजारी के शव के पास पड़ी ईंट के टुकड़े में खून लगा मिला। घटना स्थल पर फोरेंसिक टीम और डाग स्क्वायड की टीम द्वारा जांच की गई। एसपी ग्रामीण ने बताया घटनास्थल को देखा गया पुजारी के सिर पर चोट के निशान हैं। घटना के संबंध में कुछ अहम सुराग मिले हैं। एसपी ने लूटपाट की घटना से इन्कार किया हैै।

यह भी पढ़ें: Twitter पर ‘सस्पेंड कंगना रनौत’ ट्रेंड, कंगना ने दिया मुंहतोड़ जवाब

Related Articles