अब ‘SANDES’ लेगा WHATSAPP की जगह, प्राइवेसी की टेंशन होगी गायब!

जल्द ही आपके बीच मेक इन इंडिया एप संदेश आने वाला है। फिलहाल इस एप की टेस्टिंग चल रही है। रिपोर्ट के मुताबिक इस एप की टेस्टिंग सरकारी अधिकारियों द्वारा शुरू कर दी गई है।

नई दिल्ली: हाल ही में व्हाट्सएप को लेकर काफी तरह का विवाद हुआ। व्हाट्सएप की सिक्योरिटी पर लोगों ने सवाल उठाना शुरू कर दिया। दरअसल व्हाट्सएप ने एक प्राइवेसी पॉलिसी जारी की थी। जिसमें बताया जा रहा था कि अब व्हाट्सएप की चीजें फेसबुक और इंस्टाग्राम से शेयर किया जाएगा। हालांकि विवाद के बाद व्हाट्सएप ने अपनी इस प्राइवेसी को लंबे वक्त के लिए टाल दिया है। लेकिन व्हाट्सएप पर अपनी चैट और डाटा कि सिक्योरिटी को लेकर लोग अभी भी असंतुष्ट नजर आ रहे हैं।

अगर आप भी उन्हीं लोगों  में से एक हैं  जो व्हाट्सएप प्राइवेसी को लेकर संदेह में हैं तो आपके लिए एक खुशखबरी है। दरअसल जल्द ही आपके बीच मेक इन इंडिया एप संदेश आने वाला है। फिलहाल इस एप की टेस्टिंग चल रही है। रिपोर्ट के मुताबिक इस एप की टेस्टिंग सरकारी अधिकारियों द्वारा शुरू कर दी गई है। बता दें कि भारत सरकार ने इस एप को बनाने की बात पिछले साल ही की थी। लेकिन  इसके बनने की और टेस्टिंग की खबर अब आ रही है। वहीं खबरों की मानें तो शुरुआती दौर में इस एप को सिर्फ अधिकारियों द्वारा ही इस्तेमाल ही किया जा रहा है। लेकिन जल्द ही इसे सभी के सामने पेश किया जाएगा।

Image result for sandes app

हालांकि भारत में ऐप के रोलआउट के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है, लेकिन अगर आप gims।gov।in पेज पर जाते हैं, तो आप ‘sandes’ को देख सकते हैं। ये ऐप उन सभी फीचर्स के साथ आती है, जो कि किसी भी इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप में दी जाती है। इसमें यूज़र्स वॉइस और डेटा जैसे फीचर्स का इस्तेमाल कर सकेंगे।

यह भी पढ़ें: इंग्लैंड से हार के बाद अजिंक्य रहाणे पर उठे सवाल, कोहली ने बचाव करते हुए कहा..

गौरतलब है कि संदेश ऐप के लोगो में एक अशोक चक्र की आकृति बनी है जिसमें तीन रंगों का इस्तेमाल किया गया है। जो रंग तिरंगे में वहीं संदेश में देखने को मिल रहे हैं। इस ऐप को नेशनल इनफॉर्मेटिक्स सेंटर मैनेज करेगा जो इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नॉलजी मंत्रालय के अंतर्गत आता है।

यह भी पढ़ें: आत्महत्या के प्रयास में लड़के की गई जान, लड़की की हालत गंभीर

Related Articles

Back to top button