महंत नृत्य गोपाल दास की तबियत में सुधार, अस्पताल से डिस्चार्ज होकर पहुंचे अयोध्या

महंत नृत्य गोपाल दास की तबियत में अब आज बुधवार को सुधार हुआ है। तबियत ठीक होने के बाद उन्हें मेदांता अस्पताल से डिस्चार्ज करके डॉक्टरों की निगरानी में ग्रीन कॉरिडोर बनाकर आईसीयू एंबुलेंस से अयोध्या ले जाया गया है।

अयोध्या: 9 नवंबर को राजधानी लखनऊ के मेदांता अस्पताल में भर्ती हुए श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास की तबियत में अब आज बुधवार को सुधार हुआ है। तबियत ठीक होने के बाद उन्हें मेदांता अस्पताल से डिस्चार्ज करके डॉक्टरों की निगरानी में ग्रीन कॉरिडोर बनाकर आईसीयू एंबुलेंस से अयोध्या ले जाया गया है।

महंत नृत्य गोपाल दास के आश्रम मणिराम दास छावनी पर जिला प्रशासन मेडिकल की टीम मौजूद रही। उनके पहुंचते ही मणिराम का छावनी के संतों ने भव्‍य स्‍वागत किया। नृत्य गोपाल दास को छावनी में बनाए गए आईसीयू रूम में पहुंचा गया। यहां पर उनकी डॉक्टरों की निगरानी में देखभाल की जाएगी। उनकी देखभाल में तीन डॉक्टर और 6 वार्ड बॉय तैनात रहेंगे।

ये भी पढ़ें : किराएदार से है परेशान तो योगी सरकार करेगी समाधान, अब बनेगा नया कानून

डॉक्टरों की निगरानी में रहेंगे महंत

मेदांता अस्पताल के डायरेक्टर राकेश कपूर ने बताया पिछले महीने 9 नवंबर को नृत्य गोपाल दास को सांस लेने में समस्या आ रही थी जिसके बाद इन्हे मेदांता अस्पताल के आईसीयू में भर्ती कराया गया था। इलाज के दौरान आज बुधवार को उनकी तबियत में सुधार हुआ जिसके बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज करके डॉक्टरों की निगरानी में ग्रीन कॉरिडोर बनाकर आईसीयू एंबुलेंस से अयोध्या ले जाया गया है। आईसीयू रूम में महंत डॉक्टरों की निगरानी में रहेंगे। इस रूम में किसी भी बाहर के व्यक्तियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाई गई है।

ये भी पढ़ें : 14 साल के लंबे अंतराल के बाद पाकिस्तान का दौरा करेगी दक्षिण अफ्रीका

अयोध्या जिलाधिकारी अनुज झा ने दी जानकारी

मणिराम दास का छावनी में बनाए गए आईसीयू रूम में नृत्य गोपाल दास की देखभाल में तीन डॉक्टर और 6 वार्ड बॉय तैनात रहेंगे। छावनी की तरफ से दिल्ली से प्राइवेट डॉक्टर को भी यहां रखा गया है। अयोध्या जिलाधिकारी अनुज झा ने बताया कि नृत्य गोपाल दास की तबीयत में सुधार होने के बाद उन्हें उनके आवास पर लाया गया है। यहां पर मेडिकल की व्यवस्था भी की गई है, डॉक्टरों की टीम लगाई गई जो इनका इलाज करेंगे।

Related Articles