महाराष्ट्र बोर्ड : एक मिनट भी लेट आए स्टूडेंट्स तो नहीं दे सकेंगे एग्जाम

0

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में अगले साल 2018 में होने वाले 10वीं और 12वीं बोर्ड एग्जाम के तहत बोर्ड ने सख्त नियम जारी कर दिए हैं। जहां स्टूडेंट्स को सख्त हिदायत दी गयी है कि एग्जाम शुरू होने से अगर एक मिनट की देरी से भी स्टूडेंट्स एग्जाम हॉल में आते हैं तो उन्हें एग्जाम देने को नहीं मिलेगा। सभी स्टूडेंट्स को सेंटर पर पहले से पहुंचना अनिवार्य है। वहीं एग्जाम के निर्धारित समय से पहले किसी भी स्टूडेंट को हॉल से बाहर जाने की अनुमति नहीं है।

यह भी पढ़ें, जावड़ेकर का ऐलान, IIT को मिलेगा बिना ब्याज 2000 करोड़ का लोन

महाराष्ट्र बोर्ड

बता दें, अभी तक के नियम के मुताबिक, स्टूडेंट्स को एग्जाम हॉल में पहुंचने के लिए एग्जाम शुरू होने के समय से 30 मिनट की मोहलत मिलती थी। लेकिन, पिछले साल पेपर लीक होने वाली घटना के चलते इस साल बोर्ड ने यह सख्त कदम उठाया है।

दरअसल, पिछले साल 12वीं क्लास के कई पेपर सोशल मेसेजिंग ऐप्स पर उपलब्ध हो गए थे। जिसका फायदा उठाकर काफी स्टूडेंट्स एग्जाम सेंटर पर देरी से पहुंचे थे। इसके बाद बोर्ड से सख्त रवैया अपनाते हुए आधे घंटे के ग्रेस पीरियड को खत्म करने का प्रस्ताव राज्य शिक्षा विभाग के समक्ष रखा था।

वहीं, इस प्रस्ताव को शिक्षा विभाग ने मंजूरी दे दी जिसके बाद बीते दिनों बुधवार को बोर्ड ने नोटिस जारी किया। नोटिस में कहा गया है कि, ‘एग्जाम शुरू होने के बाद स्टूडेंट्स को न तो एग्जाम हॉल में प्रवेश और न ही निर्धारित समय से पहले हॉल से बाहर जाने की अनुमति मिलेगी।’

loading...
शेयर करें