कोरोना पर काबू करने मे अब Maharashtra बेहद करीब, 4 जिले कोविड हुए मुक्‍त

कोरोना के मामले में Maharashtra से अच्छी खबर। वहां के 6 जिलों मे राहत Covid-19 का एक भी केस  दर्ज नहीं हुआ। बल्कि 4 जिलों में कोरोना मुक्त जिला हुआ

मुम्बई Maharashtra: कोरोना के मामले में Maharashtra से अच्छी खबर सामने आ रही हैं। वहां के 6 जिलों मे राहत Covid-19 का एक भी केस दर्ज नहीं हुआ। बल्कि 4 जिलों में कोरोना मुक्त जिला हुआ।  कभी कोविड हॉटस्पॉट रहे विदर्भ इलाक़े में या तो केस नहीं आ रहे हैं या इक्का-दुक्का आ रहे हैं। चिंता का विषय अब पुणे इलाक़े वाले पश्चिम महाराष्ट्र को लेकर है, जहां से 70 फ़ीसदी केस आ रहे हैं।  अप्रैल तक कोविड का क़हर झेल रहे विदर्भ के ग्यारह ज़िलों में या तो कोई कोविड केस नहीं मिल रहा या महज दो-चार केस मिल रहे हैं।

 

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

जानिए कितने जिलों में राहत

महाराष्ट्र के 15 ज़िले ज़ीरो या फिर सिंगल डिजिट केस दर्ज कर रहे हैं । 6 ज़िलों में मंगलवार को कोई मामला नहीं आया, धुले में ज़ीरो, भंडारा में 1, गोंदिया में 2 और  नंदुरबार में सिर्फ़ 4 ऐक्टिव कोविड मरीज़ बचे हैं, ये चार ज़िले कोविड-फ़्री होने की राह पर हैं, इसके बाद भी  वहां की सरकार पूरी सतर्कता बरत रही है। राज्‍य सरकार की कोविड टास्क फ़ोर्स का कहना है कि वायरस अभी भी  कुछ हिस्सों में जारी है और टीकाकरण की रफ़्तार ज़रूरत से कम है।  राज्‍य में स्‍कूल फिर से खोलने की तैयारी हो रही है लेकन इंडियन मेडिकल एसोसियेशन महाराष्ट्र ने बच्चों को बिना वैक्‍सीनेट किए 17 अगस्त से महाराष्ट्र में स्कूल फिर से खोलने के फ़ैसले का विरोध किया है।

प्रतीकात्मक
प्रतीकात्मक

जानिए IMA के प्रवक्‍ता डॉ.अविनाश ने क्या कहा

IMA के प्रवक्‍ता डॉ.अविनाश भोंडवे ने कहा- बच्चों की वैक्सीन का ट्रायल चालू है, हो सकता है सितम्बर तक अप्रूवल के बाद उपलब्ध हो जाए लेकिन जब तक ये बच्चे वैक्‍सीनेट नहीं होते तब तक स्कूल नहीं रीओपन होने चाहिए, ये ख़तरे से ख़ाली नहीं होगा।  दुनिया के कई देशों जैसे फ़्रांस, जर्मनी में देखा गया कि बच्चों के स्कूल खुलने के बाद उनमें इन्फ़ेक्शन बहुत बढ़ गया, फिर स्कूल बंद लेने पड़े. ऐसे में तीसरी लहर के पायदान पर खड़े रहकर इस तरह स्कूल खोलना ख़तरे की बात है।  टीकाकरण की बात करें तो महाराष्ट्र में अब तक 4.75 करोड़ लोगों को टीका लग चुका है, 1.22 करोड़ को दूसरी डोज़ लग चुकी है।

 

यह भी पढ़ें:एमजे अकबर की याचिका पर HC ने प्रिया रमानी को जारी किया नोटिस

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles