इल्लीगल एक्टिविटी में दोषी पाए जाने पर मेजर गोगई को मिलेगी सजा

श्रीनगर: सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने शुक्रवार को कहा कि मेजर लीतुल गोगोई अगर किसी अवैध गतिविधि में संलिप्त पाए गए तो उन्हें ऐसा कठोर दंड दिया जाएगा जो एक दृष्टांत होगा। पहलगाम में एक समारोह से इतर सेना प्रमुख ने मीडिया से कहा, “मेजर गोगई अगर अवैध गतिविधि में संलिप्त पाए गए तो उन्हें कठोर दंड दिया जाएगा।”

उन्होंने कहा, “भारतीय सेना में कोई भी, चाहे किसी भी पद पर हो, अगर कुछ गलत करेगा तो हमारी जानकारी में आने पर उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

सेना प्रमुख ने कहा, “अगर मेजर गोगई ने कुछ गलत किया है तो मैं कह सकता हूं कि उनको सजा दी जाएगी और सजा ऐसी होगी कि वह एक मिसाल बनेगी।”

पिछले साल अप्रैल में बडगाम में पत्थरबाजी के दौरान स्थानीय बुनकर फारूक अहमद डार को जीप के आगे बोनेट से बांधने को लकर मेजर गोगई सुर्खियों में आए थे।

गोगोई को बुधवार को एक लड़की और एक आदमी के साथ पूछताछ के लिए श्रीनगर थाने ले जाया गया था। एक होटल के स्टाफ ने सूचना दी थी कि अधिकारी ने होटल में एक कमरा बुक करवाया था और वह उस लड़की के साथ वहां समय बिताना चाहते थे।

पूछताछ के बाद पुलिस ने मेजर को उनकी यूनिट के हवाले कर दिया। मामले की जांच के लिए पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में एक विशेष जांच दल का गठन किया गया है।

उधर, कश्मीर घाटी में इस घटना की खबर फैलने के बाद बडगाम जिले के चक-ए-कावूसा गांव में निवास कर रहे लड़की के परिवार ने गांव छोड़ दिया है। बताया जा रहा है कि लड़की का परिवार किसी अज्ञात जगह पर चला गया है।

Related Articles