जिला अस्पताल की बड़ी लापरवाही, मृतक बंदरों से भरी मिली पानी की टंकी

मध्यप्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय स्थित महत्वपूर्ण जिला अस्पताल के कुछ वार्डों को पानी सप्लाई करने वाली टंकी में मृत बंदर पाए जाने पर उसकी सफाई की गई।

मध्यप्रदेश: मध्यप्रदेश के खरगोन जिला मुख्यालय स्थित महत्वपूर्ण जिला अस्पताल के कुछ वार्डों को पानी सप्लाई करने वाली टंकी में मृत बंदर पाए जाने पर उसकी सफाई की गई।जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ दिव्येश वर्मा ने बताया कि बदबू आने पर कल बड़ी टंकी का परीक्षण कराया गया, जिसमें 2 या 3 दिन से मृत एक बंदर की लाश मिली।

इस टंकी से जिला अस्पताल के कोविड-19 वार्ड और पुराने मैटरनिटी वार्ड में भी पानी सप्लाई होता था। हालांकि अधिकांश वार्डो में बोरिंग के पानी का उपयोग किया जाता है।  बंदर अक्सर टंकी पर चढ़ जाते हैं और ढक्कन बंद होने तथा उन पर वजनदार पत्थर होने के बावजूद उसे खोलकर अंदर जाने का प्रयास करते हैं। घटना के सामने आने पर कल पूरी टंकी का पानी खाली कराया गया और उसे रसायनों से साफ कराया गया है। मृत बंदर के शव को पोस्टमार्टम के लिए पशु चिकित्सा विभाग भेजा दिया गया है।

इस दौरान रहवासियों व अस्पताल में भर्ती मरीजों ने पानी का उपयोग किया है। बताया जाता है यहां टंकी की जाली टूट गई है।यहां परिसर में कई डॉक्टर व नर्सों के मकान है। इसी टंकी से पानी सप्लाय किया जाता है। मरीजों के साथ ही डॉक्टरों, नर्सों व कर्मचारियों ने भी पानी पीया है। विशेषज्ञों की माने तो खराब पानी पीने से पेट संबंधित कई बीमारियों हो सकती है।

यह भी पढ़े:कर्पूरी ठाकुर (Karpoori Thakur) को भारत रत्न से किया जाना चाहिए सम्मानित: अनुप्रिया पटेल

यह भी पढ़े:जल्द ही बातचीत से निकलेगा किसान आंदोलन का हल – RSS

Related Articles

Back to top button